इस गाड़ी में काटने के लिए ले जा रहे थे गाय..भाजपा का झंडा लगाकर… आखिर कितनी साजिशें धर्म के खिलाफ

हिंदुत्व के खिलाफ विधर्मी ताकतें क्या क्या साजिशें रच रही है तथा हिन्दू आस्थाओं के दमन के किये किस स्तर पर जा रही हैं इसका उदाहरण हरियाणा के गुरुग्राम से सटे सोहना में उस समय देखने को मिला जब स्कॉर्पियो गाड़ी में कटान के लिए ले जाई जा रही गायों को पुलिस द्वारा बचाया गया. इस बात का खुलासा बीती देर रात उस वक्त हुआ, जब सीआईए पुलिस टीम ने नाकेबंदी के वक्त एक राजनीतिक पार्टी(BJP) का झंडा लगी एक स्कार्पियो नंबरी डीएल4सीआर-4726 को पकड़ा तो उसमें 5 गाय मोटे रस्सों से मुंह, पैर बंधे हुए जख्मी हालत में मिली. जिन्हे गौतस्कर काटने के लिए ले जा रहे थे.

पुलिस की मुस्तैदी से गायों को तो बचा लिया गया लेकिन गौ तस्कर भागने में कामयाब हो गए. पुलिस का कहना है कि भागे गौ तस्करों में से चार की पहचान हो गई है, जिनके नाम शेरू उर्फ कपला पुत्र रहीमबख्श, जमशेद पुत्र ढोलू दोनों निवासियान गांव उटावड, थाना बहीन, जिला पलवल, फारूख पुत्र कमरू निवासी गांव नई, थाना बिछौर, जिला नूंह मेवात के रूप में हुई है जबकि स्कार्पियो मालिक की पहचान का प्रयास हो रहा है. पुलिस का कहना है कि स्कार्पियो मालिक के पहचान में आते ही भादस की विभिन्न आपराधिक धाराओं और गौ संरक्षण एवं गौ संवर्धन कानून के तहत मुकदमा दर्ज कर उन्हे पकड़ा जाएगा. प्राप्त जानकारी के अनुसार सीआईए पुलिस में कार्यरत निरीक्षक भरतलाल को मुखबिर खास से सूचना हाथ लगी कि गौ तस्कर भाजपा का झंडा लगी दिल्ली नंबरी एक स्कार्पियो गाड़ी में गौधन भरकर गौकशी के लिए ले जाने वाले है.

सूचना मिलते ही उन्होंने कई स्थानों पर पुलिस नाके लगा दिए और जैसे ही एक पुलिस नाके पर तैनात पुलिस ने शक के आधार पर जब एक स्कार्पियों को रूकने का इशारा किया तो उसमें सवार युवक स्कार्पियों को वही छोड़कर भाग गए. जब उन्होने स्कार्पियों की तलाशी ली तो उसमें 5 गाय मुंह, पैर बंधी मिली. पुलिस ने पकड़ में आए गौधन को पुलिस निगरानी में गौशाला में सुरक्षित रूप से गौशाला भेजा है. उन्होंने कहा कि गौतस्करों की गिरफ्तारी के भी प्रयास कए जा रहे हैं.

Share This Post