Breaking News:

गरीब मजदूर समझ कर घर का काम करवाने ले आई थी वो आकिल, अब्दुल और शनीफ़ को..उसे नही पता था कि आगे क्या होगा


कांग्रेस शासित राजस्थान के अलवर तथा नागौर में सामूहिक बलात्कार की क्रूरतम तथा मानवता को शर्मशार करने वाली घटना अभी भुलाई नहीं गई थी कि अब राजस्थान के ही सीकर एक और महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है. मामला सीकर के फतेहपुर सदर थाना क्षेत्र का है जहाँ एक महिला के साथ उसी के घर में रंगरोगन का कार्य कर रहे तीन हैवान दरिंदों आकिल, अब्दुल गनी और शनीफ़ ने सामूहिक बलात्कार किया.

मदरसों के बाद अब मस्जिदों के लिए श्रीलंका सरकार का नया आदेश.. अगर नही पालन किया तो पुलिस को किया स्वतंत्र

सीकर के फतेहपुर के सर्किल अधिकारी कुशाल सिंह ने बताया कि सात मई को घर में रंग रोगन करने वाले आकिल, अब्दुल गनी ने अपने साथी सनीफ के साथ मिलकर घर की पहली मंजिल पर अपने बच्चे के साथ सो रही महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और विरोध करने पर उसके बच्चे को जान से मारने की धमकी दी. उन्होंने बताया कि आकिल पिनारा और अब्दुल गनी पीड़िता के घर में पिछले एक महीने से रंग रोगन का काम कर रहे थे. सात मई को पीड़िता का पति मुकुंदगढ़ शादी में गया हुआ था और वह घर की पहली मंजिल पर अपने बच्चे साथ थी.

कई स्टार क्रिकेटर उतर गए गंभीर के साथ.. मार्लेना और AAP के साथ केजरीवाल पर भी सवाल

बताया गया है कि इसी दौरान आकिल और सनीफ सीढी लगाकर महिला के कमरे में गये और बच्चे को जान से मारने की धमकी देकर महिला से दुष्कर्म किया जबकि अब्दुल नीचे निगरानी कर रहा था. दुष्कर्म करने के बाद तीनों आरोपी पीडिता का मोबाइल छीनकर फरार हो गये. उन्होंने बताया कि घटना के समय पीडिता के सास ससुर ग्राउंड फलोर पर सो रहे थे. आठ मई को पति के मुकुंदगढ से लौटने पर पीडिता ने घटना की जानकारी दी. इसके बाद पीडिता और पति की ओर से बृहस्पतिवार को इस संबंध में तीनों आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया गया.

सुपरस्टार खेसारी लाल यादव ने बताया कि लालू परिवार कितना करता है यादवों का सम्मान.. अपनी आपबीती में दिया सबूत

फतेहपुर के सर्किल अधिकारी कुशाल सिंह ने बताया कि शिकायत के आधार पर तीनों आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 458 (अवैध रूप से डरा धमकाकर घर में प्रवेश करना), 376 डी (सामुहिक दुष्कर्म), 392 (चोरी), 34 (साझा मंशा) के तहत मामला दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. उन्होंने बताया कि बताया कि पीडिता की मेडिकल बोर्ड से जांच करवाई गई और तीनों आरोपियों को अदालत में पेश किया जहां अदालत ने अब्दुल गनी को 13 मई तक जबकि दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों आकिल पिनारा और सनीफ को 14 मई तक पुलिस रिमांड दिया है. मामले की जांच की जा रही है.

ममता बनर्जी का मीम बनाया तो युवती को ठूंस दिया जेल में.. मौन हैं “फ्रीडम ऑफ स्पीच” के पैरोकार

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...