Breaking News:

प्यार में स्वीकार किया हिन्दू धर्म और हिन्दू दूल्हा.. अब मिल रही मौत की धमकी.. योगीराज को कट्टरपंथ की चुनौती

मुस्लिम परिवार में पैदा हुई वह युवती ईंट भट्ठे पर मजदूरी करती थी. उसने सुना था कि हिंदुस्तान एक धर्म निरपेक्ष देश है तथा यहां सबको अपनी मर्जी से जीने का अधिकार है. हिन्दू-मुस्लिम एकता की बातें भी उसने न सिर्फ सुनी थी बल्कि उसने इन बातों को आत्मसात भी कर लिया था. फिर उसे एक हिन्दू युवक से प्यार हो गया तथा उसने उसे अपना जीवन साथी बनाने का निर्णय ले लिया. युवती ने धर्म बदलकर प्रेमी से हिंदू रीति रिवाज के अनुसार शादी रचा ली. इससे पहले उन्होंने गाजियाबाद के आर्य समाज मंदिर में धर्म परिवर्तन किया और हाईकोर्ट में शादी रजिस्टर्ड कराई. अब युवती तथा उसके पति को कट्टरपंथियों द्वारा मौत की धमकी दी जा रही है.

“हिन्दुओ की अलग अलग जातियों में गिनती और मुसलमानों – ईसाइयों को एकजुट कर के उनका सर्वांगीण विकास” – ये एलान है एक पार्टी का अगर इस बार वो जीतेगी तो

मामला योगी शासित उत्तर प्रदेश के बागपत का है. खबर के मुताबिक़, प्रयागराज रेलवे स्टेशन से युवती के परिजनों ने युवक के अपहरण की कोशिश की. दोनों ने किसी तरह भागकर जान बचाई. उन्होंने हाईकोर्ट का आदेश दिखाते हुए एसपी से सुरक्षा की गुहार लगाई है. अधिवक्ता सुमेर सिंह ने बताया कि शामली निवासी ओमपाल सिंह करीब 25 साल से काठा गांव के पास ईंट भट्ठे पर परिवार सहित मजदूरी करता है. बेटे बिजेंद्र को भट्ठे पर रहने वाली दूसरे समुदाय की युवती सुहाना से प्रेम प्रसंग हो गया. दो सप्ताह पहले प्रेमी युगल घर से भाग निकले.

आतंक के आकाओं को सुंघा दी गई है जमीन.. जो घूमा करता था कश्मीर में अब वही मीरवाइज पेश होगा दिल्ली में

25 मार्च को गाजियाबाद के आर्य समाज मंदिर में युवती ने धर्म बदलकर अपना नाम शारदा रख लिया और प्रेमी बिजेंद्र से हिंदू रीतिरिवाज के अनुसार शादी रचा ली. दोनों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में शादी रजिस्टर्ड कराई तथा हाईकोर्ट से सुरक्षा के आदेश पर वे वापस घर लौटने लगे. जब वे प्रयागराज रेलवे स्टेशन के पास पहुंचे तो उन्हें युवती के परिजनों ने घेर लिया. परिजनों ने युवक के अपहरण की कोशिश की. दोनों ने किसी तरह भागकर जान बचार्ई. दोनों ने मंगलवार को एसपी दफ्तर पहुंचकर हाईकोर्ट के आदेश दिखाते हुए एएसपी से सुरक्षा की गुहार लगाई. इस संबंध में एएसपी रणविजय सिंह ने बताया कि दोनों की पूर्ण सुरक्षा की जाएगी.

दुश्मनी थी असलम और परवेज़ की.. और कत्ल हुआ आकाश का, जिसका दोष सिर्फ इतना था कि वो असलम का दोस्त थादुश्मनी थी असलम और परवेज़ की.. और कत्ल हुआ आकाश का, जिसका दोष सिर्फ इतना था कि वो असलम का दोस्त था

Share This Post