Breaking News:

मुगलकाल की क्रूरता भी हार गई बिहार के दरिंदों के आगे.. बंधे बाप के आगे होता रहा बेटी का बलात्कार

बिहार के किशनगंज से एक युवती के साथ सामूहिक बलात्कार का बेहद ही खौफनाक मामला सामने आया है जहाँ मुस्लिम समुदाय के 6 युवकों ने दरिंदगी की सारी सीमायें पार कर दी. दरिंदों की क्रूरता के आगे मुग़ल आक्रान्ता बाबर, अकबर, औरंगजेब भी पीछे रह गये. दरिंदों ने पहले युवती के पिता को पेड़ से बांध दिया, फिर बारी बारी से युवती के जिस्म के साथ खेलते रहे.

मामला बिहार के किशनगंज जिले के कोधोबड़ी थाना क्षेत्र का है. पीड़ित के पिता ने बताया कि सोमवार देर रात पानी के बहाने उनके घर का गेट खुलवाया गया था. उसके बाद उन्हें बंधक बनाकर गांव के बाहर ले जाया गया. गांव से बाहर ले जाकर आरोपियों ने पहले पिता की पिटाई की और उसके बाद उसे रस्सी से बांध दिया गया. आरोपियों ने बंधक पिता के सामने ही उसकी बेटी के साथ एक के बाद एक ने रेप किया. इसके बाद पीड़िता ने बुधवार को थाने पहुंचकर मामला दर्ज करवाया.

बताया जा रहा है कि आरोपियों ने पीड़ितों को धमकी दी थी कि अगर उन्होंने पुलिस में इसका शिकायत करवाई तो उन्हें जान से मार दिया जाएगा. पीड़िता के पिता ने बताया कि सभी आरोपी गांव के ही रहने वाले थे. इनमें फैज आलम, अब्दुल मन्नान, कालू, कासिम, तकसीर और अंसार शामिल हैं. इनमें दो युवक बिजली मिस्त्री का काम करते हैं, इन्होंने ही पानी के बहाने पीड़ित परिवार के घर का गेट खुलवाया था.

एसपी ने बताया कि गांववालों ने शुरुआत में पीड़िता और उसके पिता को पंचायत के जरिए मामले को निपटाने के लिए मनाया था लेकिन वह नहीं माने तथा उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. जब मामला दर्ज कर लिया गया, उसके बाद लड़की को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल ले जाया गया. उन्होंने बताया कि मामला दर्ज होने के बाद पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है तथा जल्द ही आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा और उनके खिलाफ स्पीडी ट्रायल चलाया जाएगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW