मोहसीन ने लूट लिया सदाराम को.. ज्यादा कुछ नहीं, सिर्फ विश्वास बना उसकी तबाही का कारण

आज के ज़माने में लोगों पर विश्वास करना बहुत मुश्किल सा हो गया है। पराये तो पराये लेकिन अब अपने भी धोखा देने में पीछे नहीं है। धोखाधड़ी, लूटपाट जैसी घटनाओं को आरोपी आये दिन अंजाम दे रहे है। इन सब घटनाओं में कभी कभी तो लोगों को अपनी जान तक गवानी पड़ जाती है। ऐसा ही कुछ दिल्ली के थाना मुखर्जी नगर क्षेत्र के निवासी सदाराम ठाकुर के साथ हुआ।

हाईवे टी-प्वाइंट पर दो लोगों ने फर्जी जमीन व कागजात दिखाकर धोखाधडी कर प्रोपर्टी डीलर सदाराम ठाकुर से 66 लाख 50 हजार रूपये ठग लिये। यह मामला एक वर्ष पूर्व का है जब एक बिचौलिये की मार्फत चरथावल थाना क्षेत्र के ग्राम कुटेसरा निवासी आजाद पुत्र जीजू व जनपद सहारनपुर के थाना नकुड के ग्राम कुण्डाकलां निवासी मोहसीन पुत्र जीमल ने पहुंचकर हाईवे के निकट स्थित अपनी 46 बीघा जमीन बेचने का प्रस्ताव सदाराम के सामने रखा।
लेकिन सदाराम को यह नहीं पता था कि उसे बेफकूफ बनाया जा रहा है। धोखेबाजों ने सदाराम को जमीन को मुजफ्फरनगर-चरथावल मार्ग पर लुहारी पुलिया के निकट दिखाकर 33 लाख रूपये प्रति बीघा में सौदा तय कर लिया। जबकि, असलियत में यह जमीन हाईवे के निकट न होकर कुटेसरा गांव में हैं, जिसकी कीमत भी बहुत कम हैं।
गलत स्थान पर जमीन बता कर उससे बयाने के रूप में एक बार 4० लाख व दूसरी बार साढे 26 लाख 5० हजार रूपये नकद लिए गए। बेनामें का वक्त आया लेकिन दोनों आरोपी पहुंचे ही नहीं। बैनामा 24 अगस्त, 2०16 को होना था।इस बात का फायदा दलाल मोहसीन ने उठाया। उसने कहा ‘मेरे दलाली के 12 लाख रूपये नहीं मिलेंगे, तब तक बैनामा नहीं होने दूंगा।’ बेनामें के ना पाने की वजह से सदाराम ठाकुर ने उसे 12 लाख रूपये दे दिया।
इतने रूपये देने के बाद भी आरोपी बार बार बात टालने लगे। इस बात पर सदाराम को शक हुआ और वो जमीन के कागजात लेखपाल को दिखलाने पर पता चला कि आरोपी धोखाधडी कर फर्जी जमीन के कागज दिखाकर रूपये हडप रहे थे। दोनों धोखेबाजो ने गलत जानकारी देकर सदाराम को अपने जाल फसाया और फरार हो गये। ठगी का पता चलने पर कई बार पंचायते हुईं।
इतना ही नहीं बदमाशों ने पहले तो धोखे से रूपये लुटे और अब रूपये मांगने पर जान से मारने की धमकी भी दे रहे है। पंचायत में अपनी बात न सुने जाने पर सदाराम ने एसएसपी को प्रार्थना पत्र देकर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही की मांग की गई। जिसके बाद चरथावल थाने में मुकदमा दर्ज कर दोनों आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। आज एसएसपी के आदेश पर ठगी के दोनों आरोपियों के विरूद्ध धोखाधडी का मुकदमा दर्ज किया गया। 
Share This Post

Leave a Reply