Breaking News:

आतंकी हमले की साजिश, पठानकोट में मिला सेना की वर्दी से भरा बैग

पंजाब : पंजाब के पठानकोट में सेना की वर्दी वाले एक लावारिस बैग मिलने के बाद पंजाब पुलिस और सेना ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है और हाई अलर्ट भी जारी कर दिया है। बता दें कि एक स्थानीय निवासी ने इस बैग के बारे में पुलिस को सूचना दी थी जिसके बाद पुलिस ने तलाशी अभियान शुरू किया। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि किसी संदिग्ध व्यक्ति की तलाश के लिए हमने सेना के अधिकारियों के साथ यहां तलाशी अभियान शुरू किया। 
उन्होंने बताया कि यहां डिफेंस रोड के नजदीक एक सूनसान जगह पर गेहूं के आटे की एक बोरी में पांच शर्ट और चार ट्राउजर्स मिले हैं। इसके साथ ही अधिकारियों को उस बैग में सेना की तीन वर्दी भी मिली है। बता दें कि मार्च में इंटेलिजेंस एजेंसियों की सूचना के मुताबिक, पठानकोट एयरबेस पर हाई अलर्ट किया गया था और इसके बाद आर्मी, एयरफोर्स, पंजाब पुलिस और हिमाचल प्रदेश पुलिस के 500 जवानों का ज्वाइंट सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया था। ज्ञात हो कि पठानकोट हमला 2 जनवरी, 2016 को 6 पाकिस्तानी आतंकियों के जरिये किया गया था। 
आतंकियों व सेना के बीच 36 घंटे का एनकाउंटर चला था, और इसमें 7 जवान वीरगति को प्राप्त हो गए थो। इस हमले का मास्टरमाइंड जैश-ए-मोहम्मद का चीफ मौलाना मसूद अजहर था। मोहम्मद को 1999 में कंधार प्लेन हाईजैक केस में पैसेंजर्स की रिहाई के बदले छोड़ा गया था। भारत ने आतंकियों की बातचीत की कॉल डिटेल्स और उनसे मिले पाकिस्तानी सामानों के सबूत पाकिस्तान को दे दिये थे। इसके बाद पाक मीडिया ने अजहर को हिरासत में लेने का दावा किया था, पर पाकिस्तान ने इस बात से इनकार कर दिया।
सूत्रों के अनुसार, अजहर को 1999 में कंधार प्लेन हाईजैक केस में पैसेंजर्स की रिहाई के बदले छोड़ा गया था, और इस घटिया हरकत के बाद भी पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतो से बाज नही आया, और अजहर को बचाने की कोशिश करता रहा, भारत के सारे सबूतो को झूठा साबित कर दिया। जबकि भारत का दावा था, कि मसूद अजहर ही एयरबेस अटैक का मास्टरमाइंड है।
Share This Post