उनके रक्त में समाई है धर्मनिरपेक्षता.. तभी तो माँ दुर्गा की मूर्ति विसर्जित करने जा रहे उन हिन्दुओ ने जैसे सुनी अज़ान की आवाज वैसे ही लिया एक बड़ा फैसला

इसको ही कहा जाता है की रक्त में बसना और आत्मा तक समा जाना . हिन्दू समाज कितना बड़ा धर्मनिरपेक्ष है इस बात से अंदाज़ा लगाया जा सकता है की बिहार और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में माता दुर्गा के विसर्जन में मजहबी उन्मादियो ने भले ही खूब हंगामा किया हो लेकिन उसके बाद जब असम में वो मूर्ति विसर्जित करने के लिए जा रहे थे तो उनके कानो में अज़ान की आवाज आई तो उन्होंने फ़ौरन ही अपने धर्मनिरपेक्ष होने का प्रमाण दे डाला..

विदित हो की जहाँ एक तरफ उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में और बिहार में मजहबी उन्मादियो ने माता दुर्गा के विसर्जन में विघ्न डाला तो वही पश्चिम बंगाल के एक माता पंडाल में अज़ान हुई थी लेकिन उसके बाद भी धर्मनिरपेक्ष हिन्दुओ की एक टोली असम में माता की मूर्ति ले कर जब विसर्जन के लिया जा रही थी तभी अचानक ही रास्ते की एक मस्जिद से अज़ान की आवाज आने लगी . माता दुर्गा के उन भक्तो की भीड़ में कई युवा तो अपनी धुन में मगन रहे लेकिन सेक्युलर बुज्रुगों ने एक सलाह दी जिस पर अमल भी हुआ .

असल में ये मामला है असम प्रदेश का जहाँ इस समय NRC लागू करने के बाद दिल्ली तक राजनीति हुई थी . गुवाहाटी के शांतिपुर स्विस गेट पूजा कमेटी के लोग दुर्गा प्रतिमा ब्रह्मपुत्र में विसर्जित करने जा रहे थे। वे महात्मा गांधी रोड से आगे बढ़े थे कि रास्ते में मुस्लिम बाहुल्य माछखोवा क्षेत्र में लाउडस्पीकर पर अजान सुनाई दी. ऐसे में दुर्गा पूजा कमेटी के सीनियर सदस्यों ने बज रहे देवी गीत संगीत को न सिर्फ बंद कर दिया बल्कि उसके साथ ही ढाक को भी बंद करने का निर्देश दिया.

इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद इस कदम के समर्थक और विरोधी दोनों पक्ष अपनी अपनी बात सामने रख रहे हैं . उदाहरण के लिए इस वीडियो को शेयर करते हुए सैयदा शाहनाज अनवर ने फेसबुक पेज पर इसको भाईचारे की मिसाल बताया तो कुछ लोगों ने इसी मामले में नकारत्मक कमेन्ट भी किये . ये इलाका असम के गुवाहाटी क्षेत्र में पड़ने वाला माछखोवा नाम से जाना जाता था .. माता दुर्गा पूजा कमेटी के सेक्युलर सदस्यों ने जोर से कहा कि हमें भी दूसरे धर्म का सम्मान करना चाहिए..


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share