एक और मदरसा, एक और बलात्कार.. लेकिन बात सिर्फ वहीं नहीं रुकी, उसके आगे भी जारी रहा अत्याचार

मदरसा को तालीम का पाक स्थल माना जाता है. मदरसों के बारे में प्रचार किया जाता है कि मदरसों में बच्चों को संस्कार दिए जाते हैं, तालीम सिखाई जाती है ताकि ये छोटे बच्चे आगे चलकर मानवता के हित के लिए कार्य कर सकें. लेकिन जरा सोचिये कि तालीम के नाम पर, शिक्षा के नाम पर चलने वाले मदरसों में बच्चियों की, महिलाओं की इज्जत लूटी जाये तथा ये कुकृत्य कोई और नहीं बल्कि तालीम सिखाने वाला तथाकथित मौलाना/मौलवी ही करें तो क्या उस जगह को पाक कहा जा सकता है? ये तथाकथित मौलाना जो खुद को मानवता का पैरोकार बताते हैं लेकिन इसकी आड़ में ये किसी न किसी बहाने से बच्चियों का शोषण करते हैं, आखिर क्यों? आखिर क्यों ऐसे लोगों के खिलाफ कोई फतवा आदि जारी नहीं किया जाता??

उस अनाथ को 8 माह की उम्र में लोया था गोद, फिर पढ़ा-लिखाकर बनाया था इंजीनियर.. फिर उस लड़की की जिंदगी में आया इखलाक और फिर मिली 2 लाशें

आये दिन देश के अलग-२ कौनों से मदरसे में हो रहे कुकृत्यों की तमाम ऐसी खबरें आती रहती हैं जहाँ बच्चियों के साथ दुष्कर्म तो बच्चों के साथ कुकर्म की शर्मनाक घटना को अंजाम दिया जाता है. ऐसा ही एक मामला वाराणसी के लल्लापुरा क्षेत्र से सामने आया है जहाँ एक 20 वर्षीय युवती के साथ मदरसे के मौलाना ने बलात्कार किया. युवती की तहरीर पर बुधवार को मदरसे के मुदर्रिस मौलाना शफीक के खिलाफ सिगरा थाने में दुष्कर्म सहित अन्य आरोपों में मुकदमा दर्ज किया गया. पुलिस मुकदमा दर्ज कर आरोपी की तलाश कर रही है.

रक्त से नहाया सेक्यूलर श्रीलंका.. बौद्धों पर अत्याचार के समय खामोश थे ईसाई, अब ईस्टर पर वो बने निशाना.. रोहिंग्या कर चुके हैं घुसपैठ

युवती के अनुसार उसने 2015 में आलिम की पढ़ाई के लिए मदरसे में दाखिला लिया था. मदरसे में पढ़ाने वाले पितरकुंडा निवासी मौलाना शफीक ने उसके साथ दुष्कर्म किया. इसके बाद वो युवती को धमकाने लगा कि अगर उसने किसी को तो वो उसकी आपत्तिजनक फोटो सोशल मीडिया पर वायरल कर देगा. युवती ने प्रकरण की शिकायत मौलाना शफीक के दो परिचितों से की. इस पर दोनों ने युवती का निकाह बगैर कबूल कराए मौलाना शफीक से करा दिया.

बांग्लादेशियों को बुलाया गया था प्रचार के लिए.. पहले एक वापस किया गया था, अब दूसरे के लिए आया नया आदेश

कुछ दिन बाद युवती को पता लगा कि दो बेटियों और एक बेटे का पिता मौलाना शफीक पहले भी एक युवती को अपहरण किया था. इस पर किसी तरह से युवती ने हिम्मत जुटा कर आपबीती मां-बाप को सुनाई और फिर कार्रवाई के लिए सिगरा थाने पहुंची. इस संबंध में थानाध्यक्ष सिगरा ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर आरोपी मौलाना शफीक की तलाश शुरू कर दी गई है. जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा तथा उसके खिलाफ कार्यवाई की जायेगी.

हमे दिया गया था “चाइनीज टार्चर”- मेजर उपाध्याय.. अपने ही लोगों को मारने के लिए अपनाये गए थे मौत से भी भयानक विदेशी तरीके

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post