अलीगढ़, बाराबंकी, बरेली के बाद अब मेरठ.. दरिंदे “शादाब” ने व्यापारी की 9 साल की बेटी को मार कर लाश फेंकी नाले में..दोष इतना कि वो “बलात्कार” की कोशिश के समय रो दी थी

भारत के हर कोने से एक के बाद एक ऐसी घटनाए सामने आ रही है जिसने हर किसी के चेहरे पर शिकन की लकीर दौड़ा दी है. हर किसी को अब ये चिंता सताए जा रही है कि आखिर एक ही सोच , मानसिकता के इन हवसी दरिंदो से अपनी बच्चियो को बचाएं तो कैसे बचाएं .. इनके निशाने पर आ चुकी हैं वो मासूम बच्चियां जिन्होंने अभी दुनिया को ठीक से देखा भी नहीं है .. अबोध बच्चियों के खिलाफ अलीगढ , बाराबंकी , बरेली और अब मेरठ बना हैवानियत का अड्डा ..

अब बरेली में 8 साल की मासूम से कब्रिस्तान में बलात्कार.. लहूलुहान दर्द से चीखती बच्ची अस्पताल में.. दरिन्दे का नाम अरबाज़

यद्दपि इन सभी जगहों पर जनपद की पुलिस ने अपना काम किया है और त्वरित कार्यवाही करते हुए हवस के भूखे , इंसानियत को शर्मशार करते इन सभी आरोपियों को दबोच लिया है पर इन सभी जगहों पर अपराधियों, हवासियो , दरिंदो की सोच , उनकी समझ लगभग एक जैसी ही पाई गई .. हैरानी की बात ये है कि कुछ राजनेता इस विकृति का विरोध करने के बजाय उनको कहीं न कहीं से कवर देने के लिए , उनके ऊपर से ध्यान हटाने के लिए पुलिस के खिलाफ मोर्चा खोल दिए हैं ..

भारतीय रेलवे की अनोखी पहल.. यात्री अब ट्रेन में सफर के दौरान करवा सकेंगे मसाज

फिलहाल नया मामला आया है मेरठ से.. यहाँ पर एक मासूम बच्ची फिर से एक हैवान की हैवानियत का शिकार हुई है जिसका नाम शादाब है .यहाँ पर बलात्कार करने में नाकाम रहने पर दरिन्दे शादाब ने एक 9 साल की दुधमुही बच्ची को बेरहमी से कत्ल कर डाला है और उसकी लाश को नाले में एक बोर में बाँध कर फेंक दिया.. बच्ची को दरिंदे शादाब ने गला दबा कर मारा था ये सोच कर कि उसका पाप किसी के आगे जाहिर नहीं होगा और वो कई उन दरिंदो की तरह समाज में सीना तान कर चलेगा जिसके जैसे कई देशद्रोही , पाकिस्तान परस्त , पत्थरबाज , दंगाई आज भी भारत में सम्मान से सीना तान कर अपनी असली पहिचान छिपा कर चलते हैं .

संघ का सबसे ज्यादा विरोध करने वाले शरद पवार की NCP ने पकड़ी नई राह

यद्दपि इस मामले में मेरठ पुलिस की तेजी से उसके मंसूबे नाकाम रहे और आख़िरकार वो दबोच लिया गया है . मामला खरखौदा थाना क्षेत्र के ब्रह्मपुरी इलाके का है. पुलिस के अनुसार कॉलोनी निवासी 9 वर्षीय बच्ची ईद की पूर्व संध्या पर मंगलवार रात 9 बजे घर के पास ही दुकान चावल खरीदने गयी गई थी. इसी दौरान बच्ची को पड़ोसी मोहम्मद शादाब बहला-फुसलाकरर कॉलोनी से घर करीब 500 मीटर दूर ले गया और मासूम के साथ दुष्कर्म करने लगा.

30 साल बाद 300 कश्मीरी हिन्दू वहां करेंगे पूजा जो थी उनकी जमीन और कब्जा कर लिया था मजहबी उन्मादियों ने

इस दौरान बच्ची तेजी से चिल्लाने लगी, इस शादाब ने उसका गला घोटकर उसकी हत्या कर दी और शव को कपड़े में लपेटकर नाले में फेंक दिया. इस घटना ने एक बार फिर से समाज में सनसनी मचा दी है . लोगों ने सरकार से मांग की है कि वो जल्द से जल्द ऐसे अपराधियों के खिलाफ ऐसी कार्यवाही करें कि किसी की हिम्मत हिन्दू समाज में देवी का रूप समझ पर पूजी जाने वाले इन बच्चियों की तरफ आँख उठाने की हो .

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करें. नीचे लिंक पर जाऐं-

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW