कश्मीर में 3 साल की बच्ची से बलात्कार.. बलात्कारी का नाम ताहिर अहमद जिसने रोज़ा इफ्तारी से पहले दिखाई थी टॉफी

आतंक और आतंकी से जूझते कश्मीर में एक और समस्या पैदा हो रही है और वो समस्या है बलात्कार और बलात्कारी की. मानव और मानवीयता के सभी नियमो को ध्वस्त करते हुए रमजान के महीने में एक दरिन्दे ने एक ३ साल की मासूम को अपना निशाना बनाया है जिसके बाद कश्मीर में एक बार फिर से जनता उतरी है ..

कठुआ मामले में सडको पर उतरे तमाम तथाकथित बुद्धिजीवी इस बार वो तेजी या वो आक्रोश नहीं दिखा रहे हैं जिसके चलते उनकी निष्ठां पर भी सवाल उठ रहा है . ये घटना है उत्तर कश्मीर के बांदीपोरा जिले की जहाँ अपर मात्र तीन साल की एक अबोध बच्ची के साथ हुए दुष्कर्म को लेकर स्थानीय लोगों में भारी गुस्सा है. बांदीपोरा में जुमे के दिन शुक्रवार के बाद से ही प्रदर्शन जारी है.

इसी बीच लोगों ने श्रीनगर-बारामूला नेशनल हाइवे जाम कर दिया. प्रदर्शनकारी त्रेगाम गांव के लोगों ने बताया कि जब तक आरोपी 20 साल के दरिन्दे ताहिर अहमद मीर को फांसी नहीं होती तब तक हम चुप नहीं बैठने वाले. पीड़ित बच्ची ने अपने माता-पिता को बताया कि इफ्तार से पहले आरोपी ने बच्ची को कुछ टॉफियां दी और बहला फुसलाकर उसे एकांत में ले गया, जहां उसने इस घिनौने काम को अंजाम दिया

Share This Post