Breaking News:

दुश्मनी थी असलम और परवेज़ की.. और कत्ल हुआ आकाश का, जिसका दोष सिर्फ इतना था कि वो असलम का दोस्त था

इस कत्ल को रिश्तो का कत्ल कहा जाय , विश्वास का कत्ल कहा जाय , अविश्वाश में कत्ल कहा जाए ये समझना बहुत मुश्किल है लेकिन इतना तो तय है कि एक बेगुनाह सिर्फ इसलिए मारा गया क्योकि उसने उस असलम से दोस्ती की थी जिसकी दुश्मनी परवेज़ और शमशाद से हुआ करती है . और इन सभी के बीच में एक लड़की भी थी जो इस पूरे मामले की जड़ कही जा सकती है . जब मामला सामने आया तो हर कोई हैरान हो गया था क्योकि खून बहा था एक बेगुमाह का .

आतंक के आकाओं को सुंघा दी गई है जमीन.. जो घूमा करता था कश्मीर में अब वही मीरवाइज पेश होगा दिल्ली में

ये घटना उत्तर प्रदेश एक जिला चंदौली की है जहाँ पर एक आकाश नाम के लड़की की लाश पुलिस को मिली थी . शुरुआत में कत्ल क्यों हुआ ये समझ नहीं आया पर जब पुलिस ने इसकी विवेचना की तो परतें खुलती चली गयी ..चंदौली के शहाबगंज थाना क्षेत्र के करनौल गांव की इस घटना में चंदौली पुलिस की क्राइम ब्रांच और स्थानीय पुलिस इस मामले में सराहना की पात्र है जिसने इस पूरे मामले का पर्दाफाश समय से कर दिया . इस मामले में हत्यारों को गिरफ्तार भी कर लिया गया और उस लड़की को भी जिसने इसकी पटकथा लिखी थी ..

पवित्र नवरात्रि में मन्दिरों के बगल मांस बेचने वाले जब बाज़ नहीं आये तो खुद उतरा भाजपा का विधायक

पुलिस के खुलासे के अनुसार ये सारा मामला एक पूर्व प्रेमी को उसकी प्रेमिका से अलग कर के नए प्रेमी के साथ रहने के लिए किया गया है . यहाँ पर खुद लड़की शबाना बानो ने अपने पूर्व प्रेमी असलम को मारने की सुपारी अपने नए प्रेमी परवेज़ को दी थी जिसने अपने एक साथी को मिला कर असलम के साथी आकाश को मार डाला .. हत्यारे परवेज़ का कहना है कि वो अँधेरे में आकाश को पहचान नहीं पाया इसीलिए उसने असलम के धोखे में चाकू के वार आकाश पर कर डाले थे . इसी मामले में एक अन्य हत्यारे को गिरफ्तार किया गया है जिसका नाम शमशेर हाशमी है और ये भी शबाना का प्रेमी बताया जा रहा है .

पहले महबूबा मुफ़्ती के करीबी को गोलियों से भूना, और अब आतंकियों ने किया उमर अब्दुल्ला के करीबी के घर पर ग्रेनेड से हमला

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511

Share This Post