UP के बुलन्दशहर में भी पुलिस पर हमला. हमलावरों के नाम फरमान, जावेद, मुरसलीन, रिजवान, कासिम और मोहसीन. सब इंस्पेक्टर और कांस्टेबल घायल

एक के बाद एक ऐसी खबरें आ रहीं हैं जो कुछ इशारा कर रहीं है और बता रही हैं कि स्थिति कुछ और ही बनाने की कोशिश की जा रही है जिसको गम्भीरता से लेने की जरूरत है . पहले मेरठ, फिर मैनपुरी फिर बुलंदशहर . हर कहीं हमले का प्रकार एक जैसा और हमलावर भी लगभग एक ही जैसे .. निशाना पुलिस यहाँ भी .ज्ञात हो कि एक बार फिर से उत्तर प्रदेश की ही बुलंदशहर पुलिस आई है निशाने पर . एक गैंग्स्टर को गिरफ्तार करने के लिए गये पुलिस बल को इस अंदाज़ में घेर लिया गया था जैसे वो पहले से ही तैयार बैठे रहे हों किसी हमले के लिए . एक सब इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल ने जैसे तैसे इन उपद्रवियों से खुद को बचाने में सफलता पाई .

ये अति दुस्साहसिक हमला हुआ है अभी हाल में ही इस्तेमा के लिए चर्चा में रहे उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर जिले में जहाँ की कोतवाली देहात क्षेत्र का है. गत सोमवार की रात कोतवाली पुलिस ने ताजपुर निवासी गैंगस्टर एक्ट के आरोपी शहजाद को हिरासत में लेने के लिए दबिश दी थी. उसी दौरान बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया और पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट कर दरोगा और कांस्टेबल को घायल कर दिया. साथ ही शहजाद को पुलिस हिरासत से छुड़ाकर भगा दिया. यूपी के बुलंदशहर जिले से पुलिस पर ग्रामीणों द्वारा हमला किए जाने की खबर आई है. इस हमले में एक सब इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल घायल हो गए हैं. हमले से मची अफरातफरी का फायदा उठाते हुएआरोपी गैंगस्टर शहजाद पुलिस हिरासत से फरार हो गया है.

पुलिस ने दबिश देने गई टीम पर हमले के आरोप में 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. जिनमें से 6 आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया गया है, शेष आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए कार्रवाई की जा रही है. आरोप में गांव ताजपुर के रहने वाले फरमान, जावेद, मुरसलीन, रिजवान, मोहम्मद कासिम और मोहसीन को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं जिला एसपी अतुल श्रीवास्तव ने कहा कि सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न कर पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट करने के आरोप में 12 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है

Share This Post