भारत में रहकर भारत विरोधी नारे लगाने वालों ने गद्दारी का स्थान चुना था “श्रीराम लीला मैदान को”

एकतरफ जहाँ पुलवामा आतंकी हमले की चौतरफा निंदा हो रही है. सड़क से लेकर सोशल मीडिया तक, बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक इस हमले के बाद आक्रोश में हैं तो वहीं देश में एक वर्ग ऐसा भी है जो इस हमले के बाद बेहद ही खुश है तथा जवानों के बलिदान का जश्न मना रहा है. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के बिजनौर से सामने आया है जहाँ के श्री रामलीला मैदान के पास उन्मादी शाहबेज तथा उसके 5 अन्य साथियों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाये. शिकायत मिलने पर पुलिस ने सभी के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया है

गांव सैंदवार निवासी तरुण कुमार ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि वह रविवार शाम चांदपुर निवासी विवेक शर्मा, चंद्रशेखर पाठक के साथ गांव उमरा बुजुर्ग निवासी अपने साथी रजत चौहान को दिल्ली जाने वाली ट्रेन में बैठाने के लिए रामलीला मैदान की ओर से रेलवे स्टेशन जा रहा था। वहां मोहल्ला काजीजादगान निवासी शाहवेज अपने मोहल्ले के ही मुजम्मिल, आरिफ, जिशान, आमिर, शाकिर के साथ मिलकर हिंदुस्तान मुर्दाबाद, पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगा रहे थे. तरुण के अनुसार उन्होंने आरोपियों को देशद्रोही नारे लगाने से मना किया तो आरोपियों ने उनके साथ गाली गलौज की और जान से मारने की धमकी देने लगे. उन्होंने युवकों को पकड़ने की कोशिश की तो बाकी आरोपी भाग गए, लेकिन शाहवेज को उन्होंने पकड़ लिया.

बिजनौर पुलिस ने सभी आरोपियों के विरुद्ध देशद्रोह की धारा में मुक़दमा दर्ज कर लिया है. वहीं इस पूरे मामले पर पुलिस अधीक्षक बिजनौर प्रेम प्रकाश का कहना है कि सभी आरोपियों के खिलाफ 153(A), 95(A), 504, 506 IPC की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है. वैधानिक कार्यवाई की जा रही है.

Share This Post