जिन्ना की तस्वीर पर इतना बवाल , लेकिन इसी देश मे अभी खड़ी है जिन्ना मीनार .. पुरानी सरकारों की मेहरबानी से

उत्तर प्रदेश में स्थिति अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में भारत का बँटवारा कराने वाले कट्टरपंथी मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगी होने के कारण इस समय देश की सियासत गरमाई हुई है. AMU में जिन्ना की तस्वीर लगी है, ये बात सामने आने पर जहाँ देश के राष्ट्रवादी लोग आक्रोशित हैं तथा यूनिवर्सिटी से जिन्ना की तस्वीर हटाने की मांग कर रहे हैं, वहीं दुसरी तरफ कुछ पाक परस्त जिन्ना समर्थक लोग तस्वीर को नहीं हटाने देना चाहते. ये हिन्दुस्तान का दुर्भाग्य ही कहा जायेगा कि जिस आदमी ने देश को बंट दिया, उसकी तस्वीर लगाने के लिए आज भी देश के कुछ पाक परस्त लोग हंगामा कर रहे हैं.

बात केवल जिन्ना की तस्वीर तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इससे और आगे तक है. जहाँ जिन्ना की तस्वीर को लेकर बबाल मचा हुआ है, वहीं देश की पूर्ववर्ती सरकारों का जिन्ना से जुड़ा एक और पाप सामने आया है. जी हाँ आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में मोहम्मद अली जिन्ना की याद में एक मीनार बनी हुई है, जिसका नाम जिन्ना मीनार है. मीनार आंध्र के जिस गुंटूर में है, ये समुद्र तटीय इलाका है. शहर का मुख्य बाजार वाले इलाके के बीचों बीच ये मीनार बनी हुई है. सबसे बड़ी बात ये मीनार जिस रोड पर बनी हुई है उस रोड का नाम महात्मा गांधी रोड है.

AMU में जिन्ना की तस्वीर को लेकर तर्क दिया जा रहा है कि ये तस्वीर 1938 में लगाई गयी थी, लेकिन आश्चर्य की बात ये है कि आन्ध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में जिन्ना मीनार का निर्माण आजादी के बाद कराया गया त्यह. इस जिन्ना मीनार का निर्माण उस समय कराया गया था जब कट्टरपंथी जिन्ना ने भारत के टुकड़े कर दिए. निश्चित रूप से देश के हर राष्ट्रवादी व्यक्ति के लिए ये बेहद ही दुखद तथा शर्मनाक स्थिति है कि देश को कभी न भरने वाले घाव देने वाले न सिर्फ जिन्ना के स्मारक देश में मोजूद हैं बल्कि आज भी कई जिन्ना समर्थक भी मौजूद हैं.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW