कश्मीर के आतंकी छेड़ चुके हैं देश के खिलाफ जंग जो असम के एनामुल और रफीक तबाह कर रहे थे भारत की अर्थव्यवस्था

कश्मीर में मजहबी उन्मादी इस्लामिक आतंकी दलों से मिलकर, इस्लामिक आतंकी संगठनों में शामिल होकर हिंदुस्तान के खिलाफ जंग पहले ही छेड़ चुके है. इसके अलावा भी देश के तमाम हिस्सों से जिहाद के नाम पर हिंदुस्तान के खिलाफ जंग में शामिल तमाम उन्मादी लोग गिरफ्तार हो चुके हैं. ताजा मामला असम से सामने आया है जहाँ से एनामुल हक़ तथा रफीक नामक दो लोगों को गिरफ्तार किया है जो एक दुसरे तरीके से हिंदुस्तान को तबाह कर रहे थे.

खबर के मुताबिक़, दरंग जिले के मंगलदै सदर पुलिस ने नकली नोट छापने और जाली नोटों का कारोबार करने के आरोप में दो युवकों को पुलिस ने मौक पर से ही गिरफ्तार कर लिया है. इस संबंध में प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलदै सदर पुलिस को कुछ दिन पहले एक युवक के पास से कुछ जाली नोट बरामद हुए थे, जिसके बाद पुलिस ने जांच अभियान शुरू कर दिया था. जांच करने के दौरान ही पुलिस को सूचना मिली कि धूला थाना क्षेत्र में जाली नोटों की बड़ी मात्रा में छपाई होती है. इसी क्रम में पुलिस ने मंगलदै थाने में एक मामला 1047/2018 धारा 489(बी ), 498(सी) के तहत दर्ज कर जोरदार अभियान शुरु कर दिया.

इसके बाद उन्होंने धूला थाना क्षेत्र के चलानीकुची गांव से इनामुल हक (20) और केहुतोली गांव से रफीक अली (20) को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस ने उनके पास से रुपए छापने में इस्तेमाल होने वाले सारे तंत्र एक लैपटाॅप, एक प्रिंटर, एक लेमिनेशन मशीन, एक यूपीसी और एक सौ रुपए के 46 जाली नोट बरामद किए है. पुलिस ने तत्काल ही सभी सामग्री को जब्त कर लिया और दोनों आरोपियों पर कार्रवाई करते हुए युवकों को जेल भेज दिया. इसके साथ ही पुलिस ने आश्वासन दिया है कि इस तरह के कार्यों में संलघ्न सभी आरोपियों को अभियान के तहत गिरफ्तार किया जाएगा.

Share This Post