भारत की अर्थव्यवस्था पर भी अर्थ जिहादियों का हमला.. ममता शासित बंगाल में पकड़ा गया नकली नोट का अपराधी यूसुफ़


बम धमाकों के साथ हिंदुस्तान की पावन धरती को लहूलुहान करने वाले मजहबी उन्मादियों ने हिन्दुस्तान की अर्थव्यवस्था पर भी वार करना शुरू कर दिया है. कहना गलत नहीं होगा कि भारत के दुश्मनों ने भारत को चौतरफा वार कर के संकट में लाने का मन बना लिया है. इस साजिश को अंजाम देने के लिए कभी आतंकवाद का सहारा, कभी लव जिहाद का सहारा, कभी उन्माद का सहारा, कभी दंगो को हथियार बनाया जाता रहा है लेकिन अब उन्मादियों ने सीधे सीधे आर्थिक अपराध से भी भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ पर चोट की जा रही है.

मामला ममता बनर्जी शासित पश्चिम बंगाल की राजधानी कोलकाता का है जहाँ के मैदान थाना अंतर्गत स्ट्रैंड रोड से कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने जाली नोटों के साथ एक युवक को गिरफ्तार किया है. आरोपी का नाम युसूफ शेख बताया गया है, जिसकी उम्र 21 साल बताई गई है. भारत की अर्थव्यवस्था को तबाह करने की ठानने वाला युसूफ मूल रूप से मालदा जिले के वैष्णवनगर थाना अंतर्गत कुंभीरा गांव का रहने वाला है. उसे शनिवार की रात को गिरफ्तार किया गया.

प्राप्त हुई जानकारी के मुताबिक़, यूसुफ़ शेख के कब्जे से 1.92 लाख रुपये के जाली नोट जब्त किये गये हैं. इस बात की पुष्टि कोलकाता पुलिस के डीसी (एसटीएफ) शुभंकर सिन्हा सरकार ने की है. पुलिस के अनुसार मुखबिरों से महानगर में जाली नोट तस्करी की भनक मिली थी. इसके बाद एसटीएफ की टीम बाबूघाट बस स्टैंड के पास स्ट्रैंड रोड पर निगरानी रख रही थी. वहां एक युवक की संदिग्ध गतिविधि देखकर उसे पकड़ा गया. उसकी तलाशी लेने पर दो हजार रुपये के 96 नकली नोट बरामद किये गये.

इसके बाद रविवार को उसे बैंकशाल कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे 1 सितंबर तक पुलिस हिरासत में रखे जाने का निर्देश दिया गया है. बताया जा रहा है कि आरोपी जाली नोटों को एक व्यक्ति को सप्लाई करने के लिए महानगर आया था. पुलिस आरोपी से पूछताछ कर उसके साथियों का पता लगाने की कोशिश कर रही है.  इसके साथ ही पुलिस ने कहा है कि इस तरह के कार्यों में संलघ्न सभी आरोपियों को अभियान के तहत गिरफ्तार किया जाएगा.

 


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...