आक्रोश अपनी सतह पर.. पटना में पीटे गये कश्मीरी दुकानदार..लगे सेना जिंदाबाद के नारे

पुलवामा में आतंकी हमले में CRPF के जवानों के बलिदान तथा उसके बाद देशभर की विभिन्न जगहों से कश्मीरी उन्मादियों की CRPF, सेना तथा देश के खिलाफ और इस्लामिक आतंकी तथा पाकिस्तान के समर्थन में टिप्पणियों के बाद देश का आक्रोश अपनी सतह पर आ गया है. जवानों के बलिदान से पहले ही गम में डूबे देश की जनता की भावनाओं को ये उन्मादी और ज्यादा भड़काने में कोई कसार नहीं छोड़ रहे हैं, जिसके बाद अब जनता का धैर्य टूटने लगा है.

खबर के मुताबिक़, बिहार की राजधानी पटना में उस समय हडकंप मच गया जब आक्रोशित जनता कश्मीरी दुकानदारों पर हमला कर दिया तथा उनके साथ मारपीट शुरू कर दी. देशभर के तमाम कश्मीरी उन्मादी छात्रों द्वारा सेना की खिलाफ तथा पाकिस्तान के समर्थन से भड़के लोगों ने पटना में भारतमाता की जय तथा सेना जिंदाबाद के नारे लगाते हुए कश्मीरी दुकानदारों के खिलाफ मोर्चा खोल दिया तथा हमला कर दिया. इसके बाद कश्मीरी दुकानदार अपनी दुकानें बंद कर भाग गए.

सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँच गई तथा स्थिति को काबू किया. अनहोनी की आशंका को देखते हुए पुलिस के लगभग एक दर्जन जवान मौके पर तैनात किए गए हैं. कश्मीरी बाजार के संयोजक वसीर अहमद के मुताबिक, शुक्रवार को सुबह मार्केट खुलने के बाद ग्राहकों की काफी भीड़ थी. इसी दौरान 25-30 लोग ल्हासा मार्केट में घुस गए. वे पुलवामा में सैनिकों पर हमले को लेकर गाली-गलौज करने लगे. उनमें माजिद अहमद, रईस और अब्दुल बारी को गंभीर चोट आई. वसीर अहमद ने इसकी सूचना पुलिस को दी.  सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक़, लोगों ने कश्मीरी दुकानदारों की पिटाई के बाद बिहार छोड़ने की चेतावनी दी है. इसके लिए 10 दिनों का अल्टीमेटम दिया है. इसके बाद भी यदि दुकानें बंद नहीं होती हैं, तो अंजाम भुगतने की चेतावनी दी है.

Share This Post