मध्यप्रदेश में गणतंत्र दिवस पर “भारत माता की जय” बोलते बच्चों पर कश्मीरी अंदाज़ में हमला.. पाकिस्तान विरोधी ग़दर फ़िल्म के गाने पर नाराज हुए उन्मादी

ये कांग्रेस सरकार का ही स्टैंड है कि वन्देमातरम या भारत माता की जय न बोलने वाला व्यक्ति देशद्रोही नही हो जाता और किसी को मजबूर नही किया जा सकता है ये बोलने के लिए. लेकिन अब वही सब कुछ आ रहा है अपने विकृत स्वरूप में और ये सब बोलने वालों पर हमला किया जा रहा है ..इतना ही नही, हमला करते समय ये भी नही देखा जा रहा है कि सामने युवा है, वृद्ध है या बच्चे.. खास बात ये है कि देशविरोधी नारे लगाने के लिए चुना गया गणतंत्र दिवस का ही दिन और उसके बाद जो हुआ वो और भी भयानक था ..

ध्यान देने योग्य है कि कमलनाथ सरकार की नीतियों पर सवाल उठाते हुए मध्यप्रदेश का एक हिस्सा गूंज उठा देशविरोधी नारों से .. ये स्थान है मध्य प्रदेश  का राजगढ़ जिला जहाँ के खुजनेर क्षेत्र में 26 जनवरी गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान देशभक्त व देशद्रोही बन चुके दो समूहों में भिड़ंत हो गई , जो बाद में इतनी बढ़ गई कि, उपद्रवियों ने वहां मौजूद बच्चों के साथ भी मारपीट की और कार्यक्रम स्थल पर लगी कुर्सियों की भी तोड़फोड़ कर दी। इस दौरान भारत विरोधी नारे गूंजने लगे और माहौल कश्मीरी अंदाज़ में आ गया..

वहां पर ये हिंसक नजारा देख रहे मौजूद चश्मदीदो के अनुसार देशविरोधी उन्मादी उपद्रवियों को गदर फिल्म के गाने पर ऐतराज था, जिसके चलते उन्होंने गाने पर नृत्य कर रहे बच्चों पर ही हमला कर दिया। ग़दर फ़िल्म में पाकिस्तान के खिलाफ दृश्य दिखाए गए हैं जो उन्हें कतई स्वीकार नही था..फिलहाल, प्रशासन ने हालात को काबू किया है। साथ ही माहौल व्यवस्थित बना रहे इसके लिए शहरभर में धारा 144 भी लागू कर दी है। बताया जा रहा है कि, घटना में बच्चों समेत कई लोग घायल हुए हैं।

Share This Post