गौतस्करी की गाड़ियों में अब भरे हुए हैं पत्थर.. सब इंस्पेक्टर सुर सिपाही पर कश्मीरी अंदाज में पत्थरबाजी

किसी भी हालात में हिन्दू आस्थाओं को कुचलने पर आमादा उन्मादी गौतस्कर अब समाज के रक्षक पुलिस के जवानों के खून के प्यासे बनते जा रहे हैं. गौतस्करी रोकने के लिए मुस्तैद के जवानों से मुकाबले के लिए अब गौतस्कर अपनी गाड़ियों में पत्थर भरकर चलते हैं ताकि जब पुलिस रोके तो वह पुलिस पर पत्थरों से हमला कर सकें. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के गोरखपुर के चिलुआताल में बरगदवां पुलिस चौकी के पास से सामने आया है जहाँ पशुओं से भरी मालवाहक बोलेरो गाड़ी रोकने पर गौतस्कर पुलिसकर्मियों पर हमला कर फरार हो गए.

अब रिटायरमेंट के बाद होगी 5000 तक की इनकम, हर महीने जमा करे सिर्फ 42 रूपए..

गौतस्करों के इस हमले में एक सिपाही व एक दारोगा घायल हो गए हैं. सिपाही के सिर में गंभीर चोट आई है. बरगदवां पुलिस चौकी के पास एक दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज की मदद से पुलिस, तस्करों और उनकी गाड़ी की पहचान करने की कोशिश कर रही है. घटना 21 जुलाई की रात्रि की है. बताया गया है कि बरगदवां चौकी पर तैनात दारोगा चंदन खरवार व सिपाही महेंद्र कुमार रात में दो बजे के आसपास मोहरीपुर, महेसरा की तरफ से गश्त करते हुए बरगदवां पुलिस चौकी पर लौटे थे. वे अभी बाइक खड़ी कर रहे थे कि नकहा क्रॉसिंग की तरफ से मालवाहक बोलेरो आती हुई दिखाई दी.

प्रख्यात अभिनेत्री शामिल हुई भाजपा में.. पश्चिम बंगाल में परिवर्तन की लहर

संदेह होने पर दारोगा और सिपाही ने चालक को रुकने का इशारा किया. इसी दौरान बोलेरो पर सवार तस्करों ने पुलिस टीम पर कश्मीरी अंदाज में पत्थरबाजी शुरू कर दी. अचानक हुई पत्थरबाजी में दारोगा और सिपाही घायल हो गए. दारोगा ने तो हेलमेट पहना था, इसलिए उनके सिर पर चोट नहीं आई, लेकिन शरीर पर चोटें आईं। सिर पर चोट लगने की वजह से महेंद्र कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए. दोनों को तकाल अस्पताल ले जया गया. सीसीटीवी कैमरे में पुलिसकर्मियों की ओर से पशु तस्करों की गाड़ी रोकने की कोशिश करने और उनके पुलिस टीम पर पथराव करने की घटना रिकॉर्ड हो गई है जिसकी मदद से पुलिस उनकी पहचान करने की कोशिश में जुटी है.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने के लिए हमें सहयोग करेंनीचे लिंक पर जाऐं

Share This Post