योगीराज में मंदिर के पुजारी को पीट डाला मजहबी उन्मादियों ने.. भजन को बताया हराम और अब वहां बंद हो गया है प्रभु का नाम

वो सीना ठोंककर लाउडस्पीकर पर अजान पढ़ते हैं लेकिन हिन्दू मंदिर के पुजारी ने जैसे ही लाउडस्पीकर पर भजन-कीर्तन शुरू किया, मजहबी उन्मादी भड़क उठे. लाउडस्पीकर पर भजन शुरू होने से खफा मजहबी उन्मादियों ने भजन को हराम बताते हुए मंदिर के पुजारी पर भीषण हमला कर दिया. इसके अलावा उन्मादियों ने मंदिर में जमकर उत्पात मचाया तथा मंदिर में स्थापित देवी-देवताओं की मूर्तियां तक उठा ले गये.

आज ही हुआ था छत्रपति शिवाजी महाराज का राज्याभिषेक.. संपूर्ण विश्व ब्रह्माण्ड के समस्त हिन्दुओ को “हिन्दू साम्राज्य दिवस” की शुभकामनाएं

मामला उत्तर प्रदेश के पीलीभीत स्थित रौहनिया गाँव का है. खबर के मुताबिक़, मंगलवार को जब वहाँ स्थित एक मंदिर में भजन-कीर्तन चल रहा था, तब बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग वहाँ पहुँच गए और पूजा में विघ्न डाला. बेख़ौफ़ उन्मादियों ने न सिर्फ़ लाउडस्पीकर को तोड़ डाला बल्कि धार्मिक कलेंडर भी फाड़ डाला. उन्मादियों की गुंडागर्दी देख वहाँ भजन-कीर्तन करते लोग असहाय बने रहे. उन्मादियों के कहर का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि वो वहाँ से देवी-देवताओं की प्रतिमाएँ तक उठा कर ले गए.

कांग्रेस की नेता के हत्या में नाम आया ओवैसी की पार्टी के कार्यकर्ता का जिसका नाम है तौफीक

जानकारी मिलने पर हिन्दू समाज के लोग मौके पर पहुंच गई तथा मामला गरमाने लगा. इस बीच किसी ने पुलिस को भी सूचना दे दी. सांप्रदायिक तनाव न हो, इसलिए सूचना मिलते ही तत्काल पुलिस पहुँची तथा लोगों को समझकर स्थिति को संभाला. ये घटना रौहनिया गाँव के बाहर स्थित एक देवस्थान की है, जहाँ रोज भजन-कीर्तन होता है. ऐसा पहली बार नहीं था, जब लाउडस्पीकर से भजन गया जा रहा हो. शाम के शाम वहाँ लोग धार्मिक कार्यक्रमों में व्यस्त रहते हैं. इसके बावजूद मुस्लिम गुंडों ने मंदिर में हमला किया तथा पुजारी की बेरहमी से पिटाई की.

Share This Post