शवयात्रा में जैसे ही लोगों ने “राम नाम सत्य है” कहा, उन पर मुसलामनों ने कर दिया हमला.. घटना पश्चिम बंगाल की जहाँ “राम” शब्द बोलना साबित हो रहा गुनाह

प्रभु श्रीराम.. हिन्दुओं के आराध्य वो श्रीराम जो हिंदुस्तान की पहिचान हैं.. वो प्रभु श्रीराम जो अधर्म पर धर्म की, असत्य पर सत्य की, बुराई पर अच्छाई की, दानवों पर देवों की जीत के प्रतीक हैं, हिंदुस्तान के एक राज्य पश्चिम बंगाल में उन श्रीराम के नाम का उच्चारण करना गुनाह होता जा रहा है. पश्चिम बंगाल की स्थिति कितनी भयावह है, इसका अंदाजा इस बात लगाया जा सकता है कि खुद वहां की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जय श्रीराम बोलने वालों को  सरेआम धमका रही हैं, उनके खिलाफ कार्यवाही कर रही हैं.

पश्चिम बंगाल में राम का नाम लेना कितना गुनाह बन गया है इसका उदहारण राज्य के आसनसोल के बराकर से सामने आया है जहाँ शवयात्रा में ट्राम नाम सत्य है बोलने पर उन्मादियों ने भीषण हमला कर दिया. प्राप्त हुई खबर के मुताबिक़, रविवार को कुल्टी रांचीग्राम में एक हिन्दू युवक की मौत हो गई थी. मौत के बाद स्थानीय लोग युवक की शवयात्रा लेकर मनबढ़िया शमशान घाट जा रहे थे. इस दौरान शवयात्रा में शामिल लोग युवक की आत्मिक शान्ति के लिए राम नाम सत्य है बोलते हुए जा रहे थे.

आरोप है कि इसी दौरान मुस्लिम समुदाय के उन्मादी युवकों ने राम नाम सत्य है बोलने का विरोध करते हुए शवयात्रा में शामिल लोगों पर हमला कर दिया तथा मारपीट शुरू कर दी, लाठियों से पीटना शुरू कर दिया. इसके बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई. जानकारी मिलने पर हिन्दू समाज के लोग एकत्रित हो गये तथा शव को मनबढ़िया शिव मंदिर के पास रखकर जाम लगा दिया. सूचना मिलने पर पुलिस पहुँची तथा लोगों को समझाने का प्रयास किया तथा जाम खुलवाया.

Share This Post