बिहार के मुजफ्फरपुर में उन्मादी हमला. जमा हुए थे बकरीद के बहाने जबकि निशाना थे शिवभक्त.. शिवभक्तो को बचाते हुए सब इंस्पेक्टर भी हुआ घायल

सुबह वो सब भाईजान बन कर हर किसी से मिल रहे थे . उन्हें तमाम धर्म और सम्प्रदायों से बधाईयाँ भी मिल रही थी . कुछ उनके घर आ कर बधाई दे रहे थे तो कुछ उन्हें सोशल मीडिया पर दे रहे थे . उनके हाव भाव से ऐसा लग रहा था कि वो सेकुलरिज्म की जीवंत और जीती जागती तस्वीर हैं लेकिन उनके मन में चल रहा था कुछ और ही और उनको अंजाम देना था कुछ और ही .. अचानक ही उनका वो रूप सामने आ गया जो किसी ने सोचा भी नहीं था और मच गया हाहाकार .

मुजफ्फरपुर जिले के कांटी थाना क्षेत्र में सावन के चौथी सोमवारी के दिन नमाज के समय रास्ते से भजन बजाते हुए जा रहे कांवड़ यात्रियों पर भीषण हमले की खबर है . मजहबी उन्मादियो ने उन्हें बुरी तरह से मारते हुए लाठी डंडे से भयानक हमला बोल दिया जिसमे कई महादेव भक्त कावड यात्री बुरी तरह से घायल हो गये ..इन सभी पर कश्मीर अंदाज़ में पथराव भी किया गया है जिसके बाद अफरातरफी मच गई और मौके पर पुलिस बल आया लेकिन वो भी कुछ काम नहीं कर पाया ..
उन्मादी हो चुके हमलावरों ने पुलिस पर भी धावा बोल दिया .. इस हमले में एक सब इंस्पेक्टर समेत अन्य कर्मी जख्मी हो गए. मौके पर डीएम एसएसपी, डीआईजी एवं प्रमंडल आयुक्त ने पंहुचने पर मामला शांत हुआ.  घटनास्थल को अधिकारियों ने पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया है. वीडियो में कई लोग दिख रहे हैं जिसमे अब तक 3 लोगों को हिरासत में लिया गया है. स्थिति तनावपूर्ण देखते हुए पुलिस कैंप कर रही.  भजन की आवाज सुन कर एक पक्ष से कई उन्मादी बड़ी संख्या में जुट गए और कश्मीरी अंदाज़ में पत्थरबाजी होने लगी.
सूचना पर डीएम और एसएसपी समेत कई थानों की पुलिस पहुंच गई. अधिकारियों के समझाने के बाद भी लोग नहीं माने. गुस्साए लोगों ने बाइक और साइकिल फूंक दी. पत्थरबाजी में कांटी थाने के सब इंस्पेक्टर सहित कई पुलिसकर्मी घायल हो गए.  स्थिति नियंत्रित करने के लिए पुलिस काे लाठीचार्ज करना पड़ा. किसी तरह मामला शांत हुआ. पुलिस ने तीन लोगाें को हिरासत में लिया है. स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और इलाका पुलिस के बूटों के साथ सायरनो से गूँज रहा है .
ट्विट में देखिये घटना का वीडियो –
https://twitter.com/SudarshanNewsTV/status/1160934374453288961
Share This Post