पूरा देश सैल्यूट का रहा वर्दी वालों को पर मेरठ में उन्ही वर्दी वालों पर भयानक हमला. रहीसुद्दीन है इस उन्माद का मुख्य आरोपी

ये वो समय है जब राष्ट्र वर्दी वालों को सैल्यूट कर रहा है और वर्दी वालों को कृतज्ञता व्यक्त कर रहा है लेकिन ठीक उसी समय एक ऐसी जगह है जहाँ पर कुछ उन्मादियों ने उन्ही वर्दी वालों को निशाना बनाया है और उनके ऊपर किया है भयानक हमला . पूरी तरह से न्यायपथ पर चल रही पुलिस को मेरठ में निशाने पर लिया गया और इतना ही नहीं , इसी बहाने दंगा भी भडकाने की कोशिश की गयी है जिस से आम जनमानस को निशाने पर लिया जा सके .

ज्ञात हो कि इस सभी विवाद का मूल सूत्रधार है रहीसुद्दीन नाम का एक उन्मादी जिसने तमाम नियम कानूनों को धता बताते हुए एक अवैध निर्माण करवा रखा था . उस अवैध निर्माण के चलते आम जनता को भारी असुविधा हो रही थी . एसएसपी नितिन तिवारी के मुताबिक कैंट बोर्ड की टीम और सदर थाना पुलिस भूसा मंडी में इकराम का अवैध रूप से बनाया गया मकान तोड़ने गई थी। कार्रवाई हो चुकी थी। इसी दौरान एक दर्जन महिलाओं ने पुलिस व कैंट बोर्ड की टीम का विरोध किया।

ये पथराव ठीक कश्मीरी अंदाज़ में किया गया है . इस मामले में रहीसुद्दीन भी मुख्य रूप से दोषी बताया जा रहा है .  पथराव के साथ सदर थाने के फैंटम सिपाही सतेंद्र कुमार से मारपीट कर वायरलेस सेट, मोबाइल और असलहा छीन लिया। इसके बाद उन्मादियों ने सड़क पर आकर जमकर बवाल मचाया। कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई और लूटपाट की भी कोशिश हुई। पुलिस ने एहतियातन दिल्ली रोड पर वाहनों का रूट डायवर्ट कर दिया। मेहताब सिनेमा की तरफ आने वाले रास्ते बंद कर दिए। घंटाघर पर व्यापारियों ने अफवाह के चलते दुकाने बंद कर दी। तनाव के चलते पूरे शहर में पुलिस गश्त बढ़ा दी गई है।

Share This Post