जिन्ना विवाद के बाद फिर से चर्चा अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी… कैम्पस में लगे “जल्द बनवाओ बाबरी” के पोस्टर

जिन्ना विवाद के बाद अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी आज 6 दिसंबर को एक बार पुनः चर्चा में आ गई तथा यूनिवर्सिटी कैम्पस का माहौल तनावपूर्ण हो गया जब बाबरी ढांचा गिराए जाने की वर्षी पर AMU में “जल्द बनवाओ बाबरी” लिखे हुए पोस्टर लगा दिए गये. खबर के मुताबिक़ AMU में छह दिसंबर के मौके पर स्टूडेंट एसोसिएशन फॉर इस्लामिक आइडियोलॉजी एएमयू यूनिट की तरफ से ये विवादित पोस्टर लगाए गए. इन पोस्टर में अयोध्या में बाबरी मस्जिद के पुनर्निर्माण की बात लिखी हुई है.

बाबरी के समर्थन में पोस्टर लगने के बाद एएमयू प्रशासन में हड़कंप मच गया. जिसके बाद आनन-फानन में पोस्टर हटवाने का फरमान जारी कर दिया गया. मामला न बिगड़े, इसलिए वहां पर पुलिस भी तैनात की गई. मामले में एएमयू प्रवक्ता शाफे किदवई ने बताया कि यूनिवर्सिटी में जो भी पोस्टर लगाए जाते हैं, उसके लिए पहले प्रॉक्टर से परमीशन ली जाती है. जिन पोस्टरों की बात है, उनकी कोई परमीशन नहीं ली गई है. यूनिवर्सिटी की जानकारी में ये बात आई कि ऐसे पोस्टर लगे हैं. इस पर प्रॉक्टर ने कहा है कि सभी ऐसे पोस्टरों को हटवाया जाएगा.

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW