जो भी बच्चा स्कूल में भारतमाता की जय बोला, उसको बेरहमी से मारा.. फिर एलान हुआ कि ये बोलना यहाँ मना है

उस स्कूल(इंटर कॉलेज) में जो भी बच्चा भारतमाता की जय बोलता, तो उसको बेरहमी से पीटा जाता. स्कूल प्रबंधन तथा स्कूल की प्रधानाचार्या की तरफ से साफ़ एलान कर दिया गया कि यहाँ भारतमाता की जय बोलना मना है. इसके बाद भी जिन बच्चों ने भारतमाता की जय बोलने की कोशिश की तो उसकी बेरहमी से पिटाई की गई. मामला उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले के शाहबाद स्थित इमामुद्दीन हायर सेकंडरी कॉलेज का है.

स्कूल प्रबंधन ने स्कूल में भारतमाता की जय बोलने पर रोक तो लगा दी थी लेकिन वो भूल गये थे कि राज्य तथा केंद्र में उस बीजेपी की सरकार है जिसकी शुरुआत ही भारतमाता की जय बोलने से होती है. खबर के मुताबिक़, भारत माता की जय बोलने पर रोक लगाने वाले कॉलेज पर प्रशासन ने शिकंजा कस दिया है. जांच के बाद कॉलेज के प्रबंधक और प्रधानाचार्या के खिलाफ देशद्रोह की धारा में एफआईआर दर्ज की गई है, जिससे कॉलेज की मान्यता भी खतरे में पड़ गयी है. एसडीएम ने मान्यता रद करने की संस्तुति कर दी है.

बता दें कि रविवार रात को शाहबाद क्षेत्र के सिरौली रोड स्थित इमामुद्दीन हायर सेकंडरी कॉलेज में प्रार्थना सभा का एक आडियो वायरल हुआ था, जिसमें एक अध्यापिका को बच्चों को भारत माता की जय बोलने से रोकते सुना जा रहा है. आडियो में इसको लेकर अन्य शिक्षकों की अध्यापिका से तर्क-वितर्क व कहासुनी की भी आवाजें हैं. वे मसले को धार्मिक न बता कर देशप्रेम और राष्ट्रीयता से जुड़ा होने को लेकर अध्यापिका से तर्क कर रहे हैं. लेकिन अध्यापिका ने साफ़ कर दिया था कि यहाँ भारतमाता की जय नहीं बोलने दी जायेगी.

कालेज में भारत माता की जय रोकने का आडियो तेजी से वायरल होने पर प्रशासन में खलबली मच गई और एसडीएम ने मामले में जांच बैठा दी. एसडीएम घनश्याम त्रिपाठी ने पुलिस टीम के साथ कॉलेज पहुंचकर प्रकरण की जांच की, जिसमें कॉलेज ने कबूल किया कि ऑडियो उनके कॉलेज की ही है. इसके बाद उपनिरीक्षक विजय ने सिरौली रोड स्थित इमामुद्दीन हायर सेकंडरी कॉलेज के प्रबंधक और प्रधानाचार्या राहिना के खिलाफ केस दर्ज कराया है.

जब बच्चों के अभिभावकों को इस बात की जानकारी हुई कि स्कूल में बच्चों को भारतमाता की जय बोलने से रोका जा रहा है तो आक्रोशित अभिभावक सोमवार को कॉलेज पहुंचे तथा इस फरमान के खिलाफ विरोध जताया. अभिभावकों का आक्रोश देख स्कूल प्रबंधक ने एक दिन की मोहलत मांगी और कहा कि भारत माता की जय पर रोक नहीं लगेगी. अभिभावकों ने बताया कि कॉलेज में उन बच्चों की पिटाई की गई जो भारत माता की जय के समर्थक हैं. ये बात खुद बच्चों ने अभिभावकों को बताई. फिलहाल एसडीएम ने स्कूल की मान्यता रद्द करने के आदेश दे दिए हैं तथा मामले की जांच की जा रही है.

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे लिंक पर जाएँ –

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW