नहीं संभल रहा बंगाल, चुनाव में भारी हिंसा


कोलकाता : पश्चिम बंगाल में दार्जिलिंग की चार नगर निकाय सहित पश्चिम बंगाल में सात नगर निकायों के लिए मतदान जारी है। बताया जा रहा है कि मतदान के दौरान दक्षिण 24 परगना ज़िला के पुजाली में जगह-जगह बमबारी की खबर है। वहां के लोगों के मुताबिक, वोटिंग शुरू होने के बाद 50 से 60 बम फेकने की घटनाएं हुई हैं। लोगों का दावा है कि कुछ ईवीएम मशीनों को नुकसान पहुंचाया गया है।

पुलिस की ओर से फायरिंग की भी खबर है। हालांकि इसकी प्रशासन ने इसे कन्फर्म नहीं किया है। बता दें कि जिन सात नगर निकायों में चुनाव हो रहे हैं उनमें पर्वतीय क्षेत्र के दार्जिलिंग, कुर्सियांग, कलिम्पोंग, मिरीक अधिसूचित क्षेत्र प्राधिकरण के अलावा मुर्शिदाबाद का डोमकल, दक्षिण 24 परगना का पुजाली और उत्तर दिनापुर का रायगंज शामिल हैं।

रायगंज वार्ड नंबर 18 में तृणमूल कांग्रेस के खिलाफ हंगामा हुआ, जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने बूथ कैप्चर करने का प्रयास किया। हंगामे को देखते हुए मतदान प्रक्रिया को रोक दिया और पुलिस के हंगामा करने वालों पर लाठीचार्ज भी किया। इसके बाद पुलिस ने कांग्रेस प्रत्याशी प्रोसन्नजित साहा के बाबा मिथुन साहा को गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि दार्जिलिंग जिले में तृणमूल तथा जीएनएलएफ गठबंधन और गोरखा जनमुक्ति मोर्चा (जीजेएम-भाजपा) गठबंधन के बीच सीधा मुकाबला है।

चुनाव के नतीजे 17 मई को आएंगे। इन चुनावों से सामने आएगा कि कौन पर्वतीय क्षेत्र पर राज करेगा। गौरतलब है कि पिछले एक दशक से जीजेएम का गढ़ है। वहीं, डोमकल चुनाव में मुकाबला टीएमसी और कांग्रेस माकपा गठबंधन के बीच है जबकि पुजाली और रायगंज में टीएमसी को माकपा कांग्रेस के अलावा भाजपा से भी चुनौती मिलने की संभावना है।


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share
Loading...

Loading...