तोंद वाले इंस्पेक्टरों को न दी जाए थानेदारी – योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री , उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था में आमूलचूल परिवर्तन करने के उद्देश्य से प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़े फैसले लेने शुरू कर दिए हैं .. इसी क्रम में पहले बड़े फैसले में उत्तर प्रदेश ट्रैफिक पुलिस के एक बड़े अधिकारी पर गिरी है गाज.. पहले के भी आदेश में दागी पुलिसकर्मियों को न दी जाय थानेदारी के आदेश का अनुपालन अभी तक बेहतर ढंग से नहीं हुआ , उसी क्रम में अब तोंद वाले पुलिसकर्मियों को थानेदारी न देने के निर्देश जारी किए गए हैं ..इसके अतिरिक्त भी तमाम अन्य आदेशो के साथ योगी आदित्यनाथ ने कसने शुरू किए है कानून व्यवस्था के पेंच ..

विदित हो कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एडीजी ट्रैफिक एमके बशाल को हटाने का दिया है आदेश जो आने वाले समय मे है व्यापक फेरबदल के संकेत.. उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था और ट्रैफिक व्यवस्था से नाराज सीएम योगी । एडीजी ट्रैफिक एमके बशाल को हटाने का आदेश दिया।गोरखपुर के सीओ ट्रैफिक को हटाते हुए कंपलसरी रिटायरमेंट की कार्रवाई का आदेश।

रविवार देर रात साढ़े 3 घंटे तक चली वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद सीएम योगी ने दिए आदेश। कई जिलों के पुलिस कप्तानों के पेंच कैसे।गाजियाबाद, नोएडा,सीतापुर, जौनपुर, प्रयागराज,अम्बेडकरनगर, रामपुर, बरेली, बुलंदशहर में हुई आपराधिक वारदातों पर कप्तानों से जवाब तलब हुआ है। इतना ही नहीं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तोंद वाले इंस्पेक्टरों को थाने की जिम्मेदारी ना देने का आदेश कप्तानों को दिया है ..त्यौहार के दौरान लाउडस्पीकर के इस्तेमाल पर कोर्ट के आदेश का सख्ती से हो पालन! अयोध्या में विवादित स्थल तक किसी को भी ना जाने का आदेश आदि मुख्यमंत्री के प्रमुख निर्देशो में रहे .

Share This Post

Leave a Reply