बिहार में मंत्रियों के लाल बत्ती के इस्तेमाल पर रोक लगाने की मांग पर शुरू हुई बयानबाजी

पटना : दिल्ली और पंजाब में लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं होने पर अब इसकी मांग बिहार में भी उठने लगी है। पंजाब से प्रेरणा लेते हुए कांग्रेस नेता और बिहार के शिक्षा मंत्री अशोक चौधरी ने मंत्रियों के लाल बत्ती के इस्तेमाल पर रोक लगाने की मांग की है। जिसके बाद से ही इस मुद्दे पर अलग-अलग बयानबाजी हो रही है।

बीजेपी नेता सुशील मोदी ने कहा कि लाल बत्ती का इस्तेमाल सरकार करती है और अगर सरकार इसपर कोई भी फैसला लेगी वो उसका स्वागत करेंगे। वहीं, लालू यादव की पत्नी और बिहार की सीएम रह चुकीं राबड़ी देवी तो यही सफाई देने लगीं कि वो लाल बत्ती का इस्तेमाल करतीं ही नहीं।

राबड़ी ने कहा कि ये सरकार की बात है, हमारी नहीं, और हम पावर में रहे या नहीं रहे, लेकिन हमने कभी भी लाल बत्ती का इस्तेमाल नहीं किया। हालांकि, बिहार सरकार फिलहाल लाल बत्ती पर रोक लगाने के मूड में नहीं दिख रही है। जेडीयू के प्रवक्ता नीरज कुमार का कहना है कि अभी तक लाल बत्ती का दुरूपयोग नहीं हुआ है। दुरूपयोग होने पर विचार किया जा सकता है। आपको बता दें कि पंजाब का सीएम बनते ही कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मंत्रियों के लाल बत्ती के इस्तेमाल पर रोक लगा दी थी।

राष्ट्रवाद पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW