लालू के करीबी नेता का ऐसा हैवानियत भरा चेहरा देखकर शर्मशार हुई मानवता… शिकार बने 2 नाबालिग

लालू के राज को बिहार में जंगलराज क्यों कहा जाता है इसकी बानगी लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल के कार्यकर्ताओं ने एक बार फिर दिखाई है. खबर के मुताबिक़, बिहार के नवादा में एक नाबालिग लड़के के साथ राजद नेता तथा उसके समर्थकों द्वारा अमानवीय व्यवहार का मामला सामने आया है. हिसुआ के रहने वाले 10वीं के छात्र तथा उसके एक साथी को गाड़ी चोरी के आरोप में 16 घंटे बंधक बनाकर टार्चर किया गया. पिटाई के साथ-साथ लड़के के शरीर को कई जगह सिगरेट से जलाया भी गया है.

नाबालिग लड़के को टॉर्चर करने का आरोप हिसुआ राजद प्रखंड अध्यक्ष उमेश यादव एवं उनके कुछ सहयोगियों पर लगा है. बताया गया है राजद नेता ने मात्र १० साल के बच्चे तथा उसके एक साथी को बुल्रेरो चोरी के आरोप में पकड़ा तथा फिर उसके साथ हैवानियत की सारी हदें पार कर दीं. बोलेरो चोरी के आरोप में कहरिया निवासी कृपानंदन साव के 16 वर्षीय पुत्र जिगर को 16 घंटे तक बंधक बनाकर टाॅर्चर करने के बाद आरोपियों ने नरहट थाने को सुपुर्द कर दिया. नरहट पुलिस ने अनुसंधान के बाद नाबालिग को छोड़ दिया. थाने से छूटने के बाद पीड़ित इलाज़ कराने के लिए हिसुआ पीएचसी पहुंचा जहां उसने मीडियाकर्मियों को अपनी आपबीती सुनाई. इलाज़ के बाद पीड़ित एवं उसका परिवार हिसुआ थाने में पहुंचा और प्रताड़ना की शिकायत पुलिस से की. पीड़ित छात्र ने राजद के प्रखंड अध्यक्ष अाैर गुरूचक निवासी उमेश यादव, मिथलेश कुमार यादव, पप्पू यादव, पंकज कुमार सहित करीब 14- 15 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है.

पीड़ित छात्र ने अाराेप लगाया कि मुझे तथा उसके साथी को बेल्ट से बेरहमी से पीटा गया और जुर्म कबूल नहीं करने पर सिगरेट से दागा गया. पीड़ित की मां ने बताया कि उनका बच्चा पढ़ने लिखने वाला है और उसके साथ ज्यादती हुई है. इस मामले में हिसुआ पुलिस का कहना है कि पीड़ित द्वारा थाने में लिखित आवेदन प्राप्त हुआ है. पूरे मामले की जांच की जाएगी एवं अनुसंधान में दोषी पाए जाने वाले लोगों पर कार्रवाई होगी.


 

Share This Post