Breaking News:

बहू पसंद थी रफीक को जिसकी राह में रोड़ा था उसका खुद का बेटा.. अंत में बाप या बेटे में ज़िंदा बचा सिर्फ एक और एक मार डाला गया

आप सोच भी सकते हैं कि कोई व्यक्ति अपनी पुत्रवधू के साथ बलात्कार करे? ससुर के लिए उसकी पुत्रवधू अर्थात उसके बेटे की पत्नी उसके लिए बेटी के समान होती है, तब आखिर कौन इतना निर्लज्ज होगा कि वह अपनी बेटी समान पुत्रवधू की इज्जत को ही तार-तार कर देगा? आखिर वो कौन सी सोच है जो अपनी हवस की भूख में सारे रिश्ते नातों तक की मर्यादा को भूल जाती है? लेकिन ऐसी सोच रफीक के पास थी. रफीक अपने बेटे की पत्नी अर्थात अपनी पुत्रवधू से शारीरिक संबध बनाना चाहता था लेकिन जब उसका बेटा इसमें अवरोध बना तो रफीक ने साड़ी मर्यादें तार-२ करते हुए अपने ही बेटे की हत्या करवा दी.

मामला बिहार के भागलपुर के सन्हौला के कमालपुर का है. खबर के मुताबिक़, सन्हौला में कमालपुर निवासी मो इस्तखार की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. उसके पिता ने ही उसकी हत्या करायी थी. इसके लिए उसने झारखंड के अपराधियों को तीन लाख की सुपारी दी थी. हत्यारों ने योजनाबद्ध ढंग से सन्हौला थाना क्षेत्र के बखड्डा में हसन तालाब के पास चाकू घोंप कर युवक की हत्या कर दी थी. मोबाइल कॉल डिटेल से पुलिस को पता चला कि गोड्डा जिला (झारखंड) के हनवारा थाना क्षेत्र के बेरियाचक निवासी मो फारुख से इस्तखार की अंतिम बार बात हुई थी. पुलिस ने फारुख को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि इस्तखार की हत्या की साजिश उसके पिता मो रफीक ने ही रची थी. उसने अपने गांव के मो सबुल और झारखंड के अपराधियों को बेटे की हत्या के लिए तीन लाख रुपये दिये थे. इसके बाद अपराधियों ने एक जुलाई की रात उसे खाद लेने के बहाने दुकान पर बुलाया और तालाब के पास ले जाकर चाकू घोंप कर उसकी हत्या कर दी.

इस्तखार के सनसीखेज ह्त्याकांड में पुलिस अबतक मो सबुल, मो गफ्फार और मो मोजिम को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज चुकी है. अन्य आरोपित सुखसेना गांव निवासी मो अरसद और झारखंड के एक व्यक्ति की पुलिस तलाश रही है. मृतक की पत्नी बीबी मुस्तरी के बयान पर सन्हौला थाना में इस्तखार की हत्या की प्राथमिकी दर्ज की गयी थी. बताया गया है कि मृतक के पिता मो रफीक की अपनी बहू पर ही गलत नजर थी. वह उसके साथ अवैध संबंध रखना चाहता था. उसके विरोध करने पर रफीक ने उसपर गलत आरोप लगा बेटे-बहू को घर से निकाला दिया था. सन्हौला के थानाध्यक्ष नीरज कुमार सिंह ने बताया कि आरोपित मो फारुख और मृतक के पिता मो रफीक को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त चाकू, हत्यारे के खून से सने कपड़े, मोबाइल (जिससे हत्यारों ने इस्तखार से हत्या के पहले बात की थी) और बाइक (जिसपर बैठाकर इस्तेखार को लाया गया था) बरामद कर लिया है. घटना को अंजाम देने में और भी कुछ लोगों के नाम आ रहे हैं. उनकी गिरफ्तारी के लिए भी छापेमारी की जा रही है. गिरफ्तार किये गये मो फारुख ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है तथा हत्यारोपियों की भी गिरफ्तारी जल्द कर ली जाएगी.

Share This Post