9 साल की बच्ची के टपकता खून देखकर सुलग उठा शहर.. फिर भी कट्टरपंथी दे रहे हैं मोहम्मद गुजरा का साथ

दुष्कर्म क खिलाफ केंद्र सरकार द्वारा सख्त क़ानून बनाये जाने के बाद भी दुराचारी लोग अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं तथा आये दिन महिलाओं/बच्चियों के साथ दुष्कर्म को अंजाम दे रहे हैं. ताजा मामला बिहार के बेगूसराय जिले के बलिया थाना क्षेत्र का है जहाँ मोहम्मद गुजरा नामक व्यक्ति ने 9 वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराध को अंजाम दिया. खबर के मुताबिक, बेगूसराय के बलिया थाना के मंसूरचक गांव की 9 वर्षीय मासूम बेगूसराय के सिघौल पोखर स्थित अपने घर से अपनी मां के साथ नानी घर छोटी बलिया मंसूरचक आयी थी, जिसके साथ मोहम्मद गुजरा ने बर्बरता को अंजाम दिया.

खबर के मुतबिक, पीड़ित बच्ची की नानी के द्वारा स्थानीय थाना में मोहम्मद गुजरा के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. थाना में दर्ज प्राथमिकी में बताया गया है कि उक्त बच्ची को आरोपी ने बहला-फुसलाकर गांव के पास ही स्थित नदी (गड्ढा) के पास ले जाया गया. जहां उसके साथ दुष्कर्म का प्रयास करने लगा. बच्ची द्वारा शोर मचाने पर जब हम लोग वहां पहुंचे तो देखा कि पीड़िता बच्ची बदहवाश हालत में पडी हुई थी. आरोपी ने मासूम के साथ मारपीट भी की थी. पीड़िता के परिजनों को देख आरोपी बच्ची को छोड़ फरार होने में सफल रहा. दूसरी ओर इस घटना को लेकर स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित हो गये. लेकिन इसके बाद कुछ कट्टरपंथी मोहम्मद गुजरा के समर्थन में आ गए. आक्रोशित ग्रामीणों ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के साथ थाना पहुंच कर जमकर हंगामा किया. साथ ही घटना की प्राथमिकी दर्ज कर आरोपी की गिरफ्तारी की मांग करने लगे.

बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं होने पर थानाध्यक्ष को आंदोलन की चेतावनी दे डाली. जो मामला तब शांत हुआ जब बलिया एसडीपीओ अंजनी कुमार थाना पहुंचकर घटना की प्राथमिकी दर्ज करने एवं आरोपी की जल्द गिरफ्तारी करने का आश्वासन दिया. इस संबंध में थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि आवेदन के आधार पर बच्ची के साथ दुष्कर्म के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिये छापेमारी शुरू कर दी है.

Share This Post