कभी मुलायम ने कहा था- “बच्चे हैं, गलती हो जाती है”… अब छेड़खानी करने वालों के लिए राजद के कद्दावर नेता का आया वैसा ही बयान

बलात्कार को लेकर समाजवादी पार्टी के संरक्षक तथा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने के बार कहा था कि बलात्कार पर इतना हल्ला करने की जरूरत नहीं है क्योंकि बच्चों से गलती हो जाती है. मुलायम सिंह यादव के इस बयान पर काफी बवाल मचा था तथा उनकी काफी आलोचना हुई थी. लेकिन अब लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल RJD के कद्दावर नेता शिवानंद तिवारी ने छेड़खानी करने वालों पर बिल्कुल मुलायम के अंदाज में ही टिप्पणी की है तथा कहा है कि छेड़खानी पर इतना हो हल्ला करने की जरूरत नहीं है क्योंकि एक उम्र ऐसी होती है जब छेड़खानी कोई भी करता है.

आश्चर्य होता है कि राजद प्रमुख लालू यादव के पुत्र तथा बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने जब बिहार की बेटियों के सम्मान की रक्षा में नीतीश कुमार की सरकार के खिलाफ अपना मोर्चा खोल रखा है तथा उन पर ताबड़तोड़ कर रहे हैं, उस समय राजद के कद्दावर नेता का ये बयान राजद की सोच को परिभाषित करने वाला है. आरजेडी उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा कि कौन ऐसा सा नौजवान है जो खास उम्र में लड़कियों को नहीं देखता है और चुहलबाजी नहीं करता हैं. इसमें हंगामा खड़ा करने जैसी कोई बात नहीं है. शिवानंद तिवारी दरअसल लालू के लाल तेजप्रताप और तेजस्वी के बचाव में ऐसा कह रहे हैं जिनपर छेड़खानी के आरोप लगे हैं.

दरअसल सुशील मोदी ने 30 जुलाई को एक ट्वीट किया था. सुशील मोदी ने लिखा था कि एक जनवरी 2008 को दिल्ली में नव वर्ष उत्सव के दौरान लड़कियों पर फब्तियां कसने और छेड़छाड़ करने के चलते अज्ञात लोगों ने लालू के दोनों बेटों पर हमला कर दिया था. इस घटना में घायल तेज प्रताप और तेजस्वी को हॉस्पिटल में इलाज कराना पड़ा था. उस समय दोनों भाइयों का बचाव करने वाले प्राइवेट सिक्यूरिटी ऑफिसर की सर्विस रिवाल्वर गायब हो गई थी. आगे उऩ्होनें लिखा कि परिवारवादी पार्टी ने 9 साल बाद दोनों को नेता मान लिया और सीनियर नेताओं ठिकाने लगा दिया. अब छेड़खानी की घटना में जिनके नाम आए, वे बच्चियों के हमदर्द होने का नौटंकी कर रहे हैं. शिवानंद तिवारी के बयान के बाद ये बात तो साफ़ है कि तेजस्वी तथा तेजप्रताप ने लडकियों से छेड़छाड़ की थी तथा उनकी उनकी पिटाई हुई थी, जैसा कि सुशील मोदी ने आरोप लगाया है, तभी शिवानंद तिवारी ने छेड़खानी को वैध घोषित कर दिया क्योंकि छेड़खानी का आरोप लालू के लालों पर है.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share