बहुत त्याग किया था त्रिपाठी ने लालू की पार्टी के लिए… लेकिन एक शब्द क्या बोल गए राहुल गांधी के खिलाफ, सड़कों पर आ गए

शंकर चरण त्रिपाठी..जिन्होंने अपना पूरा जीवन लालू प्रसाद यादव तथा उनकी पार्टी को मजबूत करने में समर्पित कर दिया. लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल को मजबूत करने में दिनों रात महसूस की. जब भी लालू को कोई परेशानी हुई तो शंकर चरण त्रिपाठी साये की तरह लालू यादव के साथ खड़े दिखाई दिए. शंकर चरण त्रिपाठी ने ये सपने में भी नहीं सोचा होगा एक दिन वही पार्टी उन्हें दूध से मक्खी की तरह निकाल कर फेंक देगी.

आपको बता दें कि राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता शंकर चरण त्रिपाठी को राहुल गांधी की आलोचना करने के कारण पार्टी से बाहर  निकाल दिया गया है. संसद में राहुल गांधी द्वारा प्रधानमन्त्री श्री नरेंद्र मोदी के गले मिलने तथा उसके बाद आंख मारने पर शंकर चरण त्रिपाठी ने आलोचना की थी. आरजेडी प्रवक्ता शंकर चरण त्रिपाठी ने कहा था कि राहुल गांधी पिछले 15 साल से सांसद हैं. इसके बाद उनके जैसे बड़े नेता से इस तरह सदन में आंख मारने की उम्मीद नहीं की जा सकती है. त्रिपाठी ने कहा था कि सदन में कई कैमरे लगे हुए है तथा लोगों की भी नजरें वहां रहती हैं. उन्होंने यह भी कहा कि राहुल गांधी का ये एक्ट बचपने जैसा और अप्रत्याशित था, वो भी तब जबकि वो खुद को 2019 में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार मानते हैं.

आरजेडी को अपने प्रवक्ता के द्वारा राहुल गांधी की आलोचना रास नहीं आई और उन्हें पार्टी से निकाल दिया. शायद शंकर चरण त्रिपाठी की यही गलती थी कि उन्होंने राहुल गांधी की उस मुद्दे पर आलोचना की थी, जिस पर पूरा राष्ट्र राहुल की आलोचना कर रहा था. अगर त्रिपाठी राहुल की आंख मारने को सही ठहराते तो शायद उनका राजद से निष्कासन न होता.


राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने हेतु हमे आर्थिक सहयोग करे. DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW

Share