हिन्दुओं को साम्प्रदायिक बताने वाली पार्टी में अब सुनाया जा रहा श्रीमद्भगवद गीता का उपदेश.. तेजी से बदल रही राजनीति - Hindi News, हिंदी समाचार, Samachar, Breaking News, Latest Khabar -

Breaking News:

हिन्दुओं को साम्प्रदायिक बताने वाली पार्टी में अब सुनाया जा रहा श्रीमद्भगवद गीता का उपदेश.. तेजी से बदल रही राजनीति


राजनीति में कब क्या हो जाये कुछ भी अंदाजा नहीं होता. जी राजनैतिक दल ने कभी हिन्दुओं को सांप्रदायिक कहा था, जो राजनैतिक दल अयोध्या में श्रीराम मंदिर का विरोध करता है तथा बाबरी पस्जिद का समर्थन करता है वो राजनैतिक दल अब श्रीकृष्ण की शरण में है तथा वहां अब श्रीमद्भगवद्गीता के उपदेश सुनाये जा रहे हैं. हम बात कर रहे हैं लालू प्रसाद यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल की जहाँ लालू यादव के बेटे गीता उपदेश सुनाते हुए नजर आ रही हैं.

गौरतलब है कि लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तथा बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव अक्सर कुछ अलग करते नजर आते हैं और इस वजह से वो सुर्खियों में भी रहते हैं. शुक्रवार को तेज प्रताप फतुहा के मौजीपुर पहुंचे जहां वो गोवर्धन यज्ञ में शामिल हुए .इस मौके पर लोगों ने तेज प्रताप को गीता भेंट की. तेज प्रताप यादव वहां गीता पढ़ते नजर आए साथ ही गीता का उपदेश भी पढ़कर लोगों को सुनाया. इस दौरान शंख फूंक कर यज्ञ में शामिल हुए लोगों का उत्साह बढ़ाया. इतना ही नहीं इस दौरान तेज प्रताप यादव बांसुरी बजाते भी नजर आए. तेज प्रताप यादव पूरे कार्यक्रम को काफी इंज्वॉय करते नजर आए. वहां मौजूद लोग भी तेज प्रताप का ये अंदाज देखकर दंग थे. इस मौके पर तेज प्रताप यादव ने लोगों को गीता पढ़ने की सलाह दी और गीता का पाठ भी सुनने को कहा. साथ ही उन्होंने धार्मिक कथाओं खासकर कृष्ण जी की चर्चित कथाओं को लोगों को सुनाया. तेज प्रताप का अक्सर लोगों को अलग-अलग अवतार नजर आता है.

कोरोना से पीड़ित गरीब लोगो के लिए आर्थिक सहयोग

गौरतलब है कि तेज प्रताप कुछ समय से सियासत से दूर थे. लेकिन उनकी सियासत पर सवाल खड़े होने लगी तो उन्होंने फिर से अपने नए-नए कारनामों से सियासत शुरू कर दी. उन्होंने पहले अपने समर्थकों और जनता के साथ अपने विधानसभा क्षेत्र में चाय पर चर्चा की. जिसे उन्होंने ‘टी विद तेजप्रताप’ का नाम दिया था तथा आज वही तेजप्रताप गीता सुनाते हुए नजर आ रहे हैं.


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share