पवित्र नवरात्रि में मन्दिरों के बगल मांस बेचने वाले जब बाज़ नहीं आये तो खुद उतरा भाजपा का विधायक


धार्मिक भावनाओ को आहत करने पर आमादा जब कुछ लोगों ने अपनी जिद पर अड़े रहे तो खुद योगी का विधायक उतरा और उसने मन्दिरों के आस पास से तमाम ऐसी दुकानों को बंद करवाया जो मांस काट कर उसका खून मन्दिर के बगल नालियों में बहा रहे थे और हड्डियों के अपशिष्ट आदि पवित्र मन्दिर के बगल फेंक रहे थे जहाँ पर पावन नवरात्रि के अवसर पर देवी माँ के हजारों भक्त अपनी श्रद्धा ले कर दर्शन आदि करने जाया करते थे .

एक एक शब्द सही हो रहे हैं पायल रोहतगी के.. मोहसिन अख्तर की बीबी और कांग्रेस प्रत्याशी उर्मिला मातोंडकर ने उगलना शुरू किया हिन्दुओ के खिलाफ जहर

पहले स्थानीय लोगों ने उन सभी मांस के कारोबारियों ने इसको बंद करने के लिए कहा पर वो नहीं माने तो उसी गाजियाबाद के लोनी क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के फायरब्रांड विधायक नंद किशोर गुर्जर ने शनिवार रात मंदिरों के पास मौजूद मीट की दुकानें बंद कराईं। उन्होंने कहा कि नवरात्र के दौरान इस तरह मीट की दुकानें खोलना ‘राष्ट्रद्रोह’ है क्योकि इस से हिन्दू समाज की धार्मिक भावनाओं को चोट पहुचता है और साम्प्रदायिक माहौल बिगड़ता है .

एक ऐसा मुद्दा जिस पर BJP और कांग्रेस दोनों सहमत हैं. मामला जुड़ा है एक जहरीले बयानबाज़ से

मीडिया रिपोर्ट्स में आ रही खबरों के अनुसार भारतीय जनता पार्टी के विधायक नंद किशोर गुर्जर ने कहा, ”लोनी में मंदिरों के पास मीट की दुकानें खुली हुई हैं। यह गैरकानूनी है औपर राष्ट्रद्रोह की श्रेणी में आता है। स्थानीय अधिकारियों की मिलीभगत के बिना यह संभव नहीं हो सकता है।” वहीं, इसी मामले में गाजियाबाद पुलिस के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक यू के अग्रवाल का कहना है कि उन्हें इस संबंध में कोई शिकायत नहीं मिली है।

निकाह का शौक़ीन हो गया था दानिश… 8 निकाह कर के नौंवी जगह पहुंच गया था वो, लेकिन तब तक भर चुका था पाप का घड़ा

राष्ट्रवादी पत्रकारिता को समर्थन देने व हमें मज़बूत करने के लिए आर्थिक सहयोग करें।

Paytm – 9540115511


सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share