हिंदू लड़की को जाकिर नाइक के वीडियो दिखा कर बदल दिया था.. लेकिन वो नहीं जानती थी कि आगे कुछ और बचा था

लव जिहाद हिन्दू संगठनों का एक प्रोपगेंडा मात्र है, ऐसा कहने वाली कूल ड्यूड लड़कियां इस खबर को जरूर पढ़ें क्योंकि जो आज इस लड़की के साथ हुआ है, वो कल को आपके साथ भी हो सकता है. लव जिहाद का ये मामला झारखंड की राजधानी रांची का है. पीड़ित हिन्दू लड़की के पिता ने धर्मांतरण और दुष्कर्म के बाद बेटी की हत्या की आशंका जतायी है. पिछले शनिवार को इस मामले में उन्होंने चुटिया थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करायी है.

पुलिस में दी प्राथमिकी में पीड़ित के पिता ने कहा है कि उनकी बेटी की उम्र 20 साल है. वह राजधानी रांची के गोस्नर कॉलेज में बीकॉम-1 में पढ़ती है. उन्होंने प्राथमिकी में तीन लोगों पर धर्मांतरण का आरोप लगाया गया है. इनमें मोहम्मद नैयाजुद्दीन और उसकी बेटी आलिया और पुत्र मोहम्मद जीशान शामिल हैं. लव जिहाद की शिकार हिन्दू युवती के पिता ने बताया  है कि उनकी पुत्री की दोस्ती आलिया से थी. धीरे-धीरे उसका उनके घर आना-जाना शुरू हुआ.

इसी क्रम में आलिया ने उनके पुत्री को अपने भाई जीशान से मिलाया और दोनों में दोस्ती करायी. इसके बाद आलिया के परिवार के सभी लोग मिलकर उनकी पुत्री का ब्रेन वाश करने लगे, जाकिर नाइक का वीडियो दिखाकर इस्लाम समझाने लगे. इसके बाद 28 अगस्त से उनकी लड़की लापता है. युवती के पिता ने पुलिस से अपनी बेटी को लव जिहादियों से बचाने, वापस लाने तथा आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाई की मांग की है ताकि कोई अन्य युवती इस झांसे में न फंस सके.

मामले पर थाना प्रभारी रवि ठाकुर का कहना है कि युवती के पिता ने आशंका जतायी है कि उसे इस्लाम समझाकर धर्मांतरित भी कराया गया है. साथ ही उन्होंने अपहरण कर दुष्कर्म करने और धर्मांतरण करने की भी आशंका जतायी है. पिता ने दर्ज प्राथमिकी में बताया है कि उन्हें पूरा विश्वास है कि जीशान और नेजायुद्दीन केरल के चरमपंथी गुटों से और जाकिर नाइक से जुड़ा हुआ है. उन्होंने बताया कि मामले की  जांच की जा रही है. आरोपित लोगों को गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है.

Share This Post