ईद का सामान देने के लिए जावेद ने बुलाया महिला को.. जैसे ही महिला पहुँची, साथियों के साथ मिल जावेद ने कर डाला गैंगरेप

जावेद ने उस महिला को कहा कि उसके शौहर ने उसके लिए ईद का सामान भेजा है. महिला उसके साथ ईद का सामान लेने के लिए गई तो वहां वो हुआ जिसका उस महिला को अंदाजा भी न था. उसे नहीं पता था कि ईद का सामान देने की आड़ में रमजान महीने में जावेद उसकी आबरू को तार तार कर देगा. पहले से मौजूद अपने हैवान तथा हवस के भूखे साथियों के साथ जावेद ने महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया.

मामला हरियाणा के नूंह जिले के फिरोजपुर झिरका का है. पीड़िता महिला ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसके शौहर ट्रक चालक हैं तथा अक्सर घर से बाहर रहते हैं. मुख्य आरोपी जावेद भी उसके शौहर के साथ गाड़ी चलाता है. 25 मई के दिन जावेद ने महिला को फोन कर कहा कि उसके शौहर ने ईद का सामान भेजा है. जावेद ने सामान लेने के लिए महिला को फिरोजपुर झिरका बुलाया. सामान लेने के लिए महिला शाम 6 बजे फिरोजपुर झिरका अंबेडकर चौक पर आ गई. महिला के अनुसार, वहां पर एक कार खड़ी हुई थी.

जावेद ने कहा कि समान कार की डिग्गी में रखा हुआ है. सामान निकालने के लिए जैसे ही महिला कार की ओर बढ़ी तो कार में पहले ही मौजूद मुबारिक व दाऊद निवासी नेवाना ने मिल कर महिला को जबरन कार में खींच लिया. तीनों युवक महिला को कार में डाल कर नेवाना गांव ले गए जहां दो महिलाओं शबनम व सकीला के सहयोग से रात भर सामूहिक दुष्कर्म किया. वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपियों ने महिला से मारपीट कर धमकी देते हुए उसके मायके स्थित बस स्टैंड पर छोड़कर फरार हो गए.

इसके बाद महिला ने पुलिस स्टेशन जाकर शिकायत दर्ज कराई. महिला डेस्क प्रभारी एएसआई सरिता ने बताया कि पीड़ित महिला की ओर से सोमवार शाम को शिकायत दी गई थी. इस शिकायत पर पुलिस ने सोमवार देर रात सभी आरोपियों के खिलाफ अपहरण, सामूहिक दुष्कर्म मारपीट व जान से मारने की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कर मंगलवार को मुख्य आरोपी को सिंगार गांव से गिरफ्तार किया है तथा बाकी आरोपियों की तलाश की जा रही है, जिन्हें जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

Share This Post