एक ऐसा मंत्री जिसने काले झंडे दिखाने वालों को कल बुर्का पहनने वाला जिन्ना का वंशज बताया

भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता तथा असम के वित्त मंत्री हिमंत बिस्वा शर्मा ने असम में नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ किये जा रहे विरोध प्रदर्शन में काले झंडे दिखाने वालों पर करारा हमला बोला है. हिमंत बिस्वा शर्मा ने कहा है कि काले झंडे दिखाने वाले जिन्ना के वंशज हैं. वे लोग झंडे के कपड़ों से बुरका बनाकर घर में पहनेंगे. हिमंता बिस्वा शर्मा ने ये बात पाठशाला स्थिति भगवती क्षेत्र में आयोजित भाजपा की पंचायत चुनाव में चुने गए प्रतिनिधियों तथा कार्यकर्ताओं के सम्मेलन में कही.

असम के वित्त्र मंत्री शर्मा ने कहा कि असम समझौते के अनुसार कटऑफ तारीख 1971 की बजाए 1951 होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि 1951 से असम में आए मारवाड़ी, बिहारी, मुस्लिम सहित सभी जाति के लोग असम के भूमिपुत्र हैं. मैं मुस्लिम विरोधी नहीं हूं, पर हमारे पैर के नीचे की जमीन कोई छीनने की कोशिश करेगा तो हम चुप नहीं बैठेंगे.

हिमंता बिस्वा शर्मा ने सवाल किया कि अगर हम एक करोड़ 35 लाख को स्थान दे सकते हैं तो सिर्फ आठ लाख हिंदू बांग्लादेशी को क्यों नहीं? उन्होंने कहा कि असम तथा हिंदुस्तान की एकता और अखंडता के लिए वह प्रतिबद्ध हैं तथा इस तरह के विरोध प्रदर्शनों से डरने वाले नहीं हैं. उन्होंने कहा कि असम को बचाने के लिए ये विधेयक जरूरी है वरना असम में कश्मीर जैसी स्थिति हो जायेगी.

Share This Post