Breaking News:

गुस्साये आज़म खान ने मंच पर ही उतार फेंकी फूलो की माला, सपा जिलाध्यक्ष ने हाथ जोड़कर मनाया

गोरखपुर : चुनावी सभा में भीड़ देख नेता अक्सर खुश होते हैं, लेकिन यूपी के बलिया में इसका उल्टा ही नजारा देखने को मिला। अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री आजम खान जनसभा को संबोधित करने पहुंचे। कार्यक्रम स्थल पर आजम के भाषण को सुनने के लिए जबर्दस्त भीड़ थी। जैसे ही आजम मंच पर पहुंचे, भीड़ में से कुछ लोगों ने शोरगुल मचाना शुरू कर दिया।

इसी दौरान मंच पर मौजूद कुछ कार्यकर्ताओं ने आजम खान को फूलों की माला पहनाई तो वे भड़क गए। गुस्से में आजम ने गले से माला निकाल कर फेंक दी। यहां तक कि सभा संचालित कर रहे संचालक का माइक छीनकर डायस पर रख दिया। इतने से भी जब गुस्सा शांत नहीं हुआ तो आजम ने मीडियाकर्मियों पर भड़ास निकालते हुए उनके कैमरों को वहां से हटाने को कहा।

इस बीच उत्साहित कार्यकर्ता लगातार शोरगुल कर रहे थे। ऐसे में नाराज आजम सभा छोड़कर जाने लगे तो जिलाध्यक्ष ने हाथ जोड़कर विनती करते हुए उन्हें मनाया, जिसके बाद उन्होंने सभा को संबोधित किया। गुस्सा कुछ कम होने के बाद आज़म ने वहाँ अपना भाषण शुरू किया और सपा प्रत्याशी की तारीफ़ करते हुए उन्हें वोट देने की अपील की।

मंच से बोलते हुए आजम खान ने एसपी प्रत्याशी लक्ष्मण गुप्ता के लिए कहा कि ये काले जरूर हैं, पर दिलवाले हैं। आजम ने अपने भाषण में पीएम मोदी और मायावती को भी निशाने पर लिया। आजम ने मायावती पर मुसलमानों को आपस में लड़वाने का आरोप लगाते हुए कहा कि मायावती ने विधानसभा चुनाव में 103 सीटों पर मुस्लिमों को टिकट देकर मुस्लिमानो को लड़ाने का काम किया है।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW