गौ माता का सम्मान पच नही रहा आम आदमी पार्टी को. बकरी को राष्ट्रीय बहन बनाने की मांग की . लेकिन भाजपा से जवाब ऐसा मिला जो शायद आपको अजीब लगे

ना जाने वो कौन सी दुश्मनी है गौ माता से जो उनके कत्ल की इतनी इच्छा पाल रखी है कुछ ऐसी तथाकथित लोगों ने जिन्होंने अपने नाम के पीछे केजरीवाल और सिंह लगा रखा है . यकीनन उनके जन्म के बाद भी उनकी माताओं ने उन्हें बचपन में कोशिश कर के गाय के ही दूध पर पाल कर बड़ा किया होगा पर ना जाने वो कौन सी सोच , इच्छा या चाहत है जो उन्हें गौ माता के खून को बहते देखने का जूनून सवार हो चुका है . 

आम आदमी पार्टी में अपनी बदतमीजी और सबसे उलटे सीधे बयानों के लिए जाने जाने वाले संजय सिंह ने गौ माता के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है . संजय सिंह ने केजरीवाल की तरफ से हरी झंडी मिलते ही पूरे ताकत से गौ माता के खिलाफ हमला बोल दिया और केंद्र के साथ न्यायपालिका को भी चुनौती दे डाली . संजय सिंह ने गौ माता का मजाक बताने हुए मांग की की बकरी को भी राष्टीय बहन बनाओ क्योंकि उसका दूध कई रोगों में फायदा करता है . ऐसा कर के संजय सिंह खुद को बहुत समझदार मान ही रहे थे की अचानक भाजपा के दिल्ली के नेता तिजेन्दर पाल बग्गा की नजर उस पर पड़ गयी और उन्होंने संजय सिंह को उसी अंदाज़ में जवाब दे दिया..

भाजपा नेता ने कहा की हमारी संस्कृति में बहन का दूध पीना नहीं लिखा है संजय सिंह जी . ये आप की गंदी सोच या नज़र है जो आप इतना गंदा सोच के बोल रहे हो …. इसके बाद तेजिंदर के इस बयां का व्यापक समर्थन हुआ और जनता ने इसको खूब पसंद किया . संजय सिंह गौ माता के विरोध में इस हद तक गिर गए की उन्होंने बहन तक के रिश्ते को बना कर उसका दूध पीने की बात कर डाली . संजय सिंह जैसे अभद्र नेताओं के ये बयान आम आदमी पार्टी की वास्तविक सोच को दुनिया के आगे दर्शाता है . 

Share This Post