Breaking News:

बंगाल में फिर बवाल . ममता के कार्यकर्ताओं ने फाड़ डाला प्रभु श्रीराम का पोस्टर

धर्म निरपेक्षता की एक नई परिभाषा गढ़ी जा रही है शायद बंगाल में , और इस परिभाषा में निशाने पर कभी राम , तो कभी राम का मंदिर और कभी राम के भक्त हैं.. इस बार निशाने पर था श्रीराम नवमी पर लगाया गया मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का पोस्टर ।।

मामला हावड़ा थाने के पास शिबपुर क्षेत्र का है . यहां श्रीराम के एक धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन था . इस आयोजन में केवल भाजपा नेता पहुच रहे थे , सर्वधर्म समभाव की बात कर के वोट लेने वाले सारी अन्य पार्टियों के नेता वहां से नदारद थे ..

सारी तैयारियां अपने हिसाब से चल रही थीं कि अचानक ही किसी उपद्रवी ने श्रीराम के लगे पोस्टर को फाड़ डाला .. इसका आरोप सत्ता में काबिज़ ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के नेताओं पर लगा .. श्रीराम के इस अपमान के बाद भाजपा कार्यकर्ताओं का गुस्सा फूट पड़ा और वहाँ तृणमूल और भाजपा कार्यकर्ता आमने सामने आ गए।।

जैसे तैसे कुछ वरिष्ठ लोगों के बीच बचाव के बाद जब मामला शांत हुआ तब भाजपा कार्यकर्ता सीधे थाने पहुँचे और पुलिस प्रशासन से श्रीराम का पोस्टर फाड़ने वाले तृणमूल कार्यकर्ता की गिरफ्तारी की माँग करने लगे .. 

ममता बनर्जी की ही सरकार में उन्ही के कार्यकर्ता को पकड़ने का साहस शायद स्थानीय पुलिस नहीं दिखा पाई और किसी की गिरफ्तारी नही कर सकी ।।

स्थानीय भाजपा नेता अभिषेक सिंह ने बताया कि इस आयोजन की विधिवत पुलिस से अनुमति भी ली गयी थी जिसके बाद तृणमूल कार्यकर्ताओं ने ना सिर्फ श्री राम के पोस्टर फाड़े अपितु वहां मौजूद रामभक्तों पर कांच की बोतलें भी फेंकी ।। श्री सिंह का कहना है कि सत्ता के दबाव में पुलिस भी उपद्रवियों के आगे लाचार है।।

सुदर्शन न्यूज को आर्थिक सहयोग करने के लिए नीचे DONATE NOW पर क्लिक करे
DONATE NOW