अमानतुल्लाह भारी पड़ रहा पूरी AAP पार्टी पर ..कपिल मिश्रा का मंत्री पद छिना

कभी गाड़ी नाव पर तो कभी नाव गाड़ी पर , ये देखना है तो दिल्ली आईये जहा उठापटक के इस खेल में अभी अमानतुल्लाह के आगे सब चित्त हैं ..

दिल्ली में 2 दिन पहले कुमार विश्वास और उनके समर्थकों ने बड़ा जश्न मनाया था जब उन्हें लगा कि उन्होंने अपनी ही पार्टी में अपने प्रतिद्वंदी बन चुके अमानतुल्लाह को धूल चटा दी है और उसे पार्टी से निलंबित करवा दिया है .. कुमार विश्वास के समर्थन में अलका लांबा और कपिल मिश्रा जैसे बड़े नेता खड़े दिखे थे तब ..

पर अचानक ही समय ने करवट ले ली , कुमार विश्वास की खुशी ज्यादा दिन नहीं टिकी .. अमानतुल्लाह 48 घण्टे के अंदर एक बार फिर पार्टी में वापस आया , फिर उसने पार्टी में बड़े और महत्वपूर्ण पद लिए .. पर उसका असली जलवा अभी बाकी था जो अब दिखा सबको ..

अचानक ही खबर आई कि कुमार विश्वास समर्थक कपिल मिश्रा से मंत्री पद छीन लिया गया है . फिर चालू हुई एक बार फिर आमने सामने की लड़ाई .. कुमार विश्वास ने ताबड़तोड़ ट्वीट ठोंक डाले जिसमे कपिल मिश्रा की तारीफ करते हुए केजरीवाल को इशारे में हाथ मे खंज़र जैसे शब्द से सम्बोधित किया गया ..

इधर कपिल मिश्रा ने भी केजरीवाल के खिलाफ ताल ठोंक दी . उन्होंने कहा कि उन्हें केजरीवाल प्रशांत भूषण और योगेंद्र ना समझें तो अच्छा होगा .. कपिल ने कहा कि वो पार्टी की जड़ में हैं और पार्टी उनकी ही है ..साथ ही उन्होंने कल किसी टैंकर घोटाले का कच्चा चिट्ठा खोल कर विरोधियों को पस्त करने की बात कही है ..

इस घमासान में अब आप पार्टी 2 फ़ाड़ होती साफ दिख रही है जिसमे एक धड़ा केजरीवाल है तो दूसरी तरफ कपिल और कुमार विश्वास हैं …

Share This Post