नगीना ने मुज़म्मिल से कहा रहम, रहम रहम .. पर मुज़म्मिल ने नगीना से कहा तलाक, तलाक , तलाक

हर दिन कहीं ना कहीं , कोई ना कोई तीन तलाक की बलि वेदी पर बलिदान हो रही है पर मुस्लिम पर्स्नल लॉ बोर्ड अपने हठ से टस से मस ना होने की कसम खा चूका है और वो अपनी जिद पर अड़ा हुआ है कि जारी रखेंगे तीन तलाक .

मामला फरूखाबाद का है . यहाँ जहानगंज गुलरिया सरफाबाद की रहने वाली नगीना का निकाह सन 2012 में मुज़म्मिल के साथ हुआ था . ढेर सारे सपनों के साथ वो मुज़म्मिल के घर में दाखिल हुई थी . उसके हसीन सपनो को अचानक ही ना जाने किस की नजर लग गयी और फिर शुरू हो गया उसका बुरी तरह से उत्पीड़न . नगीना मात्र 8 साल की थी तब उसके वालिद का इंतकाल हो गया . उसकी बड़ी बहन ने ही उसके लिए उसके पिता का कर्तव्य निभाया . 

शादी भी उसकी ही बड़ी बहन ने अपनी जमा पूजी को एक जगह कर के करवाया . जब शादी कर के वो मुजम्मिल के घर आई तो उसे पता चला कि मुज़म्मिल शराब का आदी है . शादी के मार कुछ माह बाद ही मुजम्मिल ने नगीना को मार पीट कर घर से बहार निकाल दिया . काफी दिन मायके में रहने के बाद जब नगीना को पता चला की उसके पति ने अप्रैल 2017 में दूसरी शादी कन्नौज में कर ली है तो वो अपने पति के आगे गिड़गिड़ाती हुई अपनी जिंदगी का वास्ता देने पहुंची पर उसके पति मुज़म्मिल ने उसे बुरी तरह मारा और तीन तलाक कह कर बेदखल कर डाला . 


अब नगीना बुरी तरह से टूट गयी है . उसे अगर कहीं से भी न्याय की आस है तो वो है भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आड़तियानाथ से . उन्होंने कहा कि ये कुप्रथा बंद कर के भारत सरकार तमाम बेसहारा औरतों के साथ न्याय करे. वो अपनी फ़रियाद का प्रार्थना पत्र ले कर थाने भी पहुंची जहाँ थानाध्यक्ष का कहना है कि वो इस पर आवयशक कार्यवाही करेंगे . 

Share This Post