Breaking News:

सेना नहीं जनता के धैर्य की परीक्षा है कश्मीरी विधायक राशिद का ये जहरीला बयान जिसे सुन कर आप का ख़ून खौल जाएगा ..

कांग्रेस ने तेलंगाना पुलिस पर आतंक फैलाने का आरोप लगा कर एक छोटा सा परीक्षण भर किया जो बेहद सफल रहा एक विपरीत विचारधारा रखने वाले समूह के लिए और उनके ही राह पर चल कर लखनऊ में रिहाई मंच ने उत्तर प्रदेश की ATS पर झूठा केस दर्ज करने का आरोप लगाया और उसी मार्ग पर चल कर कश्मीर के विधायक ने सारी मर्यादाओं को छिन्न भिन्न कर डाला ..

कभी गौ मांस की पार्टी देने वाले कश्मीरी विधायक राशिद इंजीनियर ने एक केस को आधार बना कर सेना के सैनिकों को बलात्कारी बताया . उस विधायक ने सुप्रीम कोर्ट पर भी गम्भीर आरोप लगा कर पक्षपाती होने की बात कहीं.  नीचता की पराकाष्ठा पार करने वाले विधायक राशिद इंजीनियर का कहना है कि सेना के बलात्कारी सैनिकों को भी निर्भया के दोषियों की तरह फाँसी की सज़ा मिले.. सेना के बलात्कारी जवानों को सज़ा ए मौत ना देना एक प्रकार का पक्षपात है जो कश्मीरियों के साथ हो रहा ।।

कभी दिल्ली में दीपक मिश्रा नाम के हिन्दू कार्यकर्ता के हाथों से स्याही से नहाने और विधानसभा में भाजपा विधायक से पिटने वाले विधायक राशिद इंजीनियर ने पत्थरबाज़ों को खुला समर्थन देते हुए उन्हें आज़ादी की लड़ाई के सिपाही बताया ..उन्होंने कहा कि पूरा कश्मीर उन आज़ादी के योद्धाओ पर फक्र महसूस करता है ..

Share This Post