Breaking News:

सब्जार अहमद की मौत को पचा नहीं पा रहे पत्थरबाज़. घाटी में कई जगहों पर पत्थरबाजी . CRPF ने सम्भाला मोर्चा

बुरहान के बाद घाटी के नए पोस्टर बॉय सबज़ार को मारने के बाद जहाँ बाकी देश में जश्न का माहौल है वहीँ कुछ तथाकथित लोगों द्वारा मासूम बताये जा रहे पत्थरबाज गम के सागर में डूब गए हैं . घाटी में अपने आप बंदी सी हो गयी है .सड़कें सूनी हो गयी हैं और दुकाने बंद हो गयी हैं . भारत की सरकार ने इस स्थिति को भांप लिया था और पहले से ही तयारी पूरी कर ली थी . हर तरफ सुरक्षा बल के जवान मोर्चा संभाल चुके हैं . 

हिज़्बुल मुजाहिद्दीन की कमर तोड़ने के बाद सेना के हौसले बुलंद हैं . अभी कुछ ही दिन पहले सेना के हाथ से लश्कर का आतंकी अबू दुजाना इसलिए बच कर निकल गया था क्योंकि वहां तमाम पत्थरबाज पहुंच गए थे और उन्हें बचाने के चक्कर में सेना ने बेहद रक्षात्मक रवैया अपना लिया जिसके बाद अबू दुजाना बच कर भाग गया था . अब इस बार सेना ने ना ही कोई चूक की और ना ही कोई रियायत .. 

सबज़ार के मरते ही कश्मीर में कई जगहों से पत्थरबाजी की खबरे हैं . कई इलाकों में सुरक्षा बलों से सीधे भिड़ गए हैं पत्थरबाज . उनके हिसाब से मारा गया आतंकी उनका अपना आदर्श था जो अब नहीं रहा .. CRPF पूरे अलर्ट पर है . एक कश्मीरी पत्थरबाज के घायल होने की खबर आ रही है. हालत तनावपूर्ण पर नियंत्रण में है कुछ स्थानों पर इंटरनेट सेवाएं बाधित कर दी गयी हैं . सेना का संदेश साफ़ है की बुरहान के मारे जाने के बाद व्यापक प्रदर्शन होने के बाद भी सेना ने अपनी नीति नहीं बदली और संदेश दिया गया है की जो भी खुद को भारत के संविधान से ऊपर समझेगा उसे उसके अंजाम तक पहुंचाया जाएगा . 

Share This Post