गोंडा में दंगाई जावेद के साथियों ने हिन्दू सेना अध्यक्ष की गाडी तोड़ी. कश्मीरी अंदाज़ में मंदिरों पर पथराव .गाज गिरी पुलिस सब इंस्पेक्टर पर

उत्तर प्रदेश का क़ानून प्रशासन सुधारने के लिए वर्तमान योगी सरकार दिन रात एक कर के परिश्रम कर रही है पर आये दिन कोई ना कोई दंगाई ऐसी हरकत कर ही देता है जो सीधे तौर पर प्रशासन को चुनौती माना जा सकता है. साथ ही ये अंदाजा लगाया जा सकता है की पिछली सरकारों में जहाँ तुष्टिकरण के आधार पर शासन चलता था , तब क्या हालत रहे होंगे अब तुष्टिकरण ना करने का दावा करने वाली सरकार सत्ता में बैठी है .

जिला गोण्डा के बेलसर में रगङगंज बाजार में 10 मई को दो समुदायों के बीच जमकर बवाल हुआ,.. ना सिर्फ हवाईं फायरिंग हुई  बल्कि कश्मीरी अंदाज़ में पत्थरबाजी भी हुई,जिसमें दो लोग चोटिल हुए जिनका इलाज करवाया जा रहा है . पथराव में धार्मिक स्थल,दुकान और गाडिया हुई क्षतिग्रस्त. इस दौरान गोंडा का प्रमुख बाज़ार रगङगंज बाजार पूरी तरह पुलिस छावनी में तब्दील रहा ..

कुछ सूत्रों का कहना है की इस बवाल का मुख्य कारण दो दिन पहले हुए कब्रिस्तान में रास्ते की नाप को बताया जा रहा है, जिसमें हुए मामूली विवाद को मौके पर ही निबटा दिया गया था …पर एक वर्ग ने अपने मन में उसी बात को अपने मन में रख ली और आगे चल कर उसी को लेकर हुई कहासुनी  बवाल में बदल गया. ऐसा लगा की जावेद के पक्ष के दंगाई पहले से ही तैयारी कर के बैठे थे क्योंकि देखते देखते उसकी तरफ से भारी भीड़ जमा हो कर हवाई फायरिंग और कश्मीरी अंदाज़ में पत्थरबाजी शुरु कर दी ..इस पत्थरबाजी में जिसमें एक व्यक्ति को सिर और एक व्यक्ति को हाथ में चोट लगी ..

मामला यहीं नहीं रुका जावेद के साथ खड़े सैकङो की भीङ ने मन्दिर, दुकानों और घरों की तरफ रुख कर के उन पर भीषण पथराव किया। पथराव में आलोक नाम के व्यक्ति का एक परिजन घायल हो गया . जावेद की तरफ से अचानक ही इस प्रकार का धावा बोलने से ऐसा लगा की पहले से ही कोई गंभीर तयारी बना रखी गयी थी . दंगाईयों का आतंक यू बरकरार रहा की उस  बाजार में घन्टो तक सन्नाटा पसरा रहा और हालत समय होने के आसार ही नहीं दिख रहे थे .इस बीच पुलिस अधीक्षक सुधीर सिंह ने दहशत से दूकान बंद किये तमाम लोगो को अपने दुकानों को खोलने के लिए कहा और पूरी सुरक्षा का आश्वासन दिया। मौके पर पुलिस अधीक्षक सुधीर सिंह के साथ भारी पुलिस बल मौजूद है जिसमे सी ओ मनकापुर,सी ओ तरबगंज,कोतवाल ,तरबगंज परसपुर उमरी थानें और तमाम चौकियों के इंचार्ज मुख रूप से रहे . PAC के जवान भी मौके पर तैनात किये गए हैं . 


वही अन्य सूत्र माध्यमों का कहना है कि मामूली विवाद को लेकर शुरू हुई दो पक्षों की लड़ाई बड़ा रूप ले गयी . जिसके बाद ये पथराव और अराजकता बढ़ी ..  पुलिस ने बताया कि रगड़ गंज कस्बा बाजार मे हिंदू सेना के जिलाध्यक्ष व् युवा हिन्दू नेता शिवम सोनी की गाड़ी और जावेद से संबंध रखने वाली मोटरसाइकिल से टकरा गयी। इस बात को लेकर शिवम और जावेद के समर्थको के बीच हुई कहासुनी हुई और देखते ही देखते मारपीट में और उसके बाद पथराव के साथ फायरिंग में बदल गयी  .. धीरे धीरे दोनो पक्षों के लोग आमने सामने आ गये और दोनो तरफ से जमकर ईट पत्थर चले और हवा में गोलियां दागी गयी। उन्होने बताया कि अफरातफरी का माहौल होने से व्यापरियों ने बाजार बंद कर दी .

घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने तेजी दिखाते हुए हमलावर भीड़ को तितर बितर कर दिया। इस घटना में शिवम की गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गयी जिसे माना जा रहा है की दंगाइयों ने तोड़ दी  साथ ही कुछ लोगों को चोटें भी आयी। पुलिस ने इस सिलसिले में दोनो पक्षों के कई लोगों को हिरासत मे ले लिया। एहतियात के तौर पर मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। उपद्रवियों की तलाश मे पुलिस छापेमारी कर रही है। इस बीच बेलसर के चौकी प्रभारी पर प्रशासन ने गाज गिरा दी और उन्हें हटा दिया गया . उनके बदले नए प्रभारी लाये गए हैं .पुलिस बल 24 घंटे सख्त पहरा दे रहा है .

पर जावेद जैसे आतातियों के कारनामों के चलते व्यापरियों के प्रभावित होने वाले व्यापर के साथ तमान लोगों की जान खतरे में पड़ने जैसी घटना को गंभीरता से लेने की जरूरत है जिस से आगे ऐसे अप्रिय घटना ना होने पाए . 

Share This Post