#सैल्यूट_सिपाही ,सुल्तानपुर UP के चौकी इंचार्ज राम प्रकाश को सुदर्शन का सैल्यूट जिन्होंने जलते घर से सुरक्षित निकाला उस वृद्धा को


पुलिस को चंद लोग बदनाम करते है। पुलिस को कुछ लोग गलियां देते है पर कुछ चंद पुलिस वालों की वजह से लोग पुलिस वालों के लिए गलत नजरिया बना लेते है और उसी नजरिये के चलते पुलिस वालों की नेकियों को लोग भूल कर उन्हें बुरा भला कहते है। ये पुलिस वाले ही है जिनकी वजह से देश के अंदर देश की जनता सुरक्षित है और चैन की नींद सोती है। पुलिस की दिलेरी, निडरता, कर्तव्यनिष्ठा और दरियादिली का एक और मामला सामने आया जिसमें पुलिस ने अपनी जान की बाजी लगा दी किसी इंसान के बचाव हेतु।

पुलिस की इस कर्तव्यनिष्ठा को सुदर्शन सलाम करता है। संज्ञान में आया नया मामला सुल्तानपुर शहर के चौक भीड़-भाड़ वाले इलाके चित्रा स्टूडियो की गली की गली का है। आपको बता दे की यहाँ एक बिजनेसमैन के घर में आग लग गई। आग की लपटे इतनी तेज थी की हर कोई अपनी जान बचाने को इधर उधर भागा। इस बीच में एक बुजुर्ग महिला आग लगे घर के कमरे में फंस गई। महादेव कसौधन की 75 वर्षीय मां मकान में फंस गईं, आग की वजह से पूरे मकान में धुआं भर गया था। सूचना मिलने पर फरिस्ते की तरह चौकी इंचार्ज शाहगंज राम प्रकाश यादव हमराह सिपाहियों के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और अपनी जान हथेली पर रख कर उस महिला की जान बचाई।
कंधे पर उठाकर निकले दरोगा मौके पर मौजूद शाहगंज के चौकी इंचार्ज राम प्रकाश यादव अपने हम राहियों के साथ पड़ोसियों के घर के अन्दर से घुसकर महादेव कसौधन के घर में घुसे। अंदर पूरा मकान धुएं से भरा हुआ था, उसी धुएं के बीच महादेव की बुजुर्ग मां बेहोश पड़ी हुई थी। दरोगा राम प्रकाश और उनके हमराहियों ने बुजर्ग महिला को कंधे पर लादकर मकान से बाहर निकाला और नीचे ले आए पुलिस और परिजन बेहोश महिला को तुरंत जिला अस्पताल ले गए।विदित हो की ये आग घर में शॉर्ट सर्किट के कारण लगी। 

सुदर्शन के राष्ट्रवादी पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग करे और राष्ट्र-धर्म रक्षा में अपना कर्त्तव्य निभाए
DONATE NOW

Share