जिन्हें बताया गया “डरा हुआ” , उन्होंने आम के विवाद के बहाने निकाल लिए हथियार.. पुलिस ने बचाए बहुसंख्यकों के प्राण

कथित बुद्धिजीवी तथा सेक्यूलर राजनेता व खान मार्केट गैंग एक स्वघोषित निराधार थ्योरी गढ़ती हुई नजर आई है कि देश में मुसलमान डरा हुआ है, मुस्लिमों पर हमले किये जा रहे हैं, उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है. इसे लेकर तमाम तरह के कुतर्क गढ़ने की नापाक कोशिशें 2014 से ही की जाती रही हैं. केंद्र की वर्तमान मोदी सरकार भी लगभग “मुस्लिम डरा हुआ है” की थ्योरी को स्वीकार करते हुए उनका विश्वास जीतने की बात कर रही है.

“वो डरा हुआ है” की वास्तविक हकीकत क्या है, इसकी बानगी उत्तर प्रदेश के जौनपुर के स्थानीय थाना क्षेत्र के गरियांव बाजार में शनिवार की शाम उस समय देखने को मिली जब आम आम खरीद रहे युवक से दुकानदार की कहा सुनी हो गई. इसके बाद दुकानदार के और साथी आ गये तथा आम खरीद रहे युवक को पीटकर घायल कर दिया. इसके बाद वहां तनाव फ़ैल गया. सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को अस्पताल पहुंचाया जहां प्राथमिक उपचार के बाद हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया. स्थिति और न बिगड़े इसके के लिए भारी पुलिस बल की तैनाती भी की गई.

खबर के मुताबिक़, बाजार निवासी अर्जुन सोनी मुस्लिम समुदाय के एक दुकानदार के यहां आम खरीद रहे थे. सौदा करने के दौरान दोनों से कहा सुनी हो गई. इसी दौरान दुकानदार के अपनी साथियों को बुला लिया तथा अर्जुन पर हमला बोल दिया. उन्मादियों ने अर्जुन को पीट पीटकर गंभीर रूप से घायल कर दिया गया. बाजार में मौजूद लोगों ने बीच बचाव कर युवक की जान बचाई और घटना की जानकारी पुलिस को दी. सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल युवक को अस्पताल पहुंचाया.

पुलिस पहुंचते ही मारपीट करने वाले मौके से फरार हो गए. मामला दो समुदायों के बीच का होने के कारण बाजार में पवारा और मुंगराबादशाहपुर थाने की फोर्स तैनात कर दी गई ताकि स्थित और ज्यादा न बिगड़े. सीओ मछलीशहर विजय सिंह का कहना है कि दूकानपर आम का सौदा करते समय विवाद हुआ था जिसे लेकर दूकानदार व ग्राहक में मारपीट हो गई थी, जिसमें ग्राहक को चोट आई है. एहतियात के तौर पर पुलिस फोर्स तैनात की गई है. किसी को माहौल ख़राब नहीं करने दिया जाएगा.

Share This Post