दूषित हो रही देवभूमि… उत्तराखंड में मोती सिंह की ह्त्या के बाद फैला जबर्दस्त तनाव.. पहले भी हो चुकी हैं उन्माद की घटनाएँ

देवभूमि उत्तराखंड मजहबी उन्मादियों के आतंक से लगातार संक्रमित होती जा रही है. पिछले काफी समय से लव जिहाद के कई मामले देवभूमि से सामने आये हैं तो अब उत्तराखंड की राजधानी देहरादून से 50 किमी की दूरी पर विकासनगर तहसील में रविवार को जमकर बवाल हुआ. हिन्दू युवक मोती सिंह के अपहरण और हत्या की आशंका के बाद बवाल हो गया. मामला 16 जनवरी का है, जब मोती सिंह का अपहरण हो गया. उसके परिजनों ने पुलिस में नदीम और अहसान के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई. पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया और दोनों ने अपना जुर्म भी कुबूल कर लिया.

खबर के मुताबिक़, रविवार को करीब 12 बजे से डाक पत्थर चौराहे पर भीड़ जुटनी शुरू हो गई. करीब 700 से ज्यादा स्थानीय लोगों की भीड़ जुट गई उसके बाद पुलिस और स्थानीय लोगों के बीच तीखी नोक झोंक शुरू हो गई. देखते ही देखते बवाल हो गया. पूरा विकासनगर का बाजार भी रविवार को बंद रहा. दोनों आरोपियों नदीम और अहसान ने अपना जुर्म कुबुल कर लिया है और अब पुलिस मोती सिंह की डेडबॉडी की खोजबीन में जुट गई है.

विकासनगर के पास स्थित शक्तिनहर में शव की खोजबीन जारी है और एसडीआरएफ और जल पुलिस पिछले 48 घंटों से शव की खोजबीन कर रही है. दोनों आरोपियों पर मोती सिंह की हत्या का आरोप है और हत्या कर शव को शक्ति नहर में फेंकने  के बाद ही विकासनगर में तनाव की स्थिति पैदा हो गई. विकासनगर में उपद्रव के बाद एसडीएम विकासनगर, सीओ विकासनगर सहित भारी संख्या में पुलिस बल के साथ साथ पीएसी तैनात कर दी गई है

Share This Post