अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग बहाने. निशाने पर मोदी, गौ माता व हिंदू

देश में अलग-अलग जगहों से अलग-अलग बहाने गौहत्या को अंजाम दिया है और मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए सांप्रदायिक हिंसा को बढ़ावा दिया जाता है। मोदी सरकार को बदनाम करने के लिए कुछ लोग इस तरह के हथकंडे अपनाते है जिससे अलग-अलग जगहों पर तनाव का माहौल बन सके। आए दिन गौहत्या की घटनाओं को जानबूझकर अंजाम दिया जाता है और शहर में तनाव का माहौल पैदा किया जाता। 
उत्तर दिनाजपुर के चोपड़ा ब्लॉक के दुर्गापुर में कुछ विशेष समुदाय के लोग गाय चोरी करके के ले जा रहे थे। तभी गौरक्षकों को इस घटना के बारे में जानकारी मिली और गायों को छुड़ाने के लिए वहां पहुंचे। जैसे वो लोग वहां पहुंचे तो उन लोगों ने गौरक्षकों पर हमला कर दिया जिसके बाद गौरक्षकों ने उनकी पिटाई कर दी। इसके बाद वहां और भी कुछ लोग जमा हो गए और उन गाय चोरी करने वालों की जमकर पिटाई कर दी। 
वहीं, उन लोगों ने अपनी गलती न मानते हुए वहां पर हिंसा का माहौल बना दिया और मोदी सरकार और गौरक्षकों को बदनाम करने की कोशिश करने लगे। इससे पहले हरियाणा के बल्लभ गढ़ ट्रेन में हाफिज जुनैद की भीड़ ने जमकर पिटाई कर दी थी। उस पर आरोप था कि वो गाय चोरी करके ले जा रहा था। बता दें कि झारखंड के गिरीडीह जिले बेरिया हतीतांद में एक शख्स उस्मान अंसारी के घर के बाहर मृत गाय मिली थी, जिसके बाद इस घटना को लेकर लोगों में काफी गुस्सा था। मृत गाय को देखकर आक्रोशित लोगों ने उसकी पिटाई कर दी थी।
Share This Post